10+ पंचगनी में घूमने की जगह, खर्चा और जाने का समय

Panchgani Me Ghumne ki Jagah : मैंने अपने इस लेख में पंचगनी में घूमने की जगह , जाने का सही समय एवं खर्चा हर किसी चीज की जानकारी काफी सरल शब्दों प्रस्तुत किया है। इसलिए मेरा यह लेख आपके बहुत काम आने वाली है। यदि आप पंचगनी में घूमने वाली जगहों के बारे में जानकारी की तलाश में हैं।

बात घूमने फिरने करें तो महाराष्ट्रा के सबसे महत्वपूर्ण हिल स्टेशन पंचगनी का नाम न आये ऐसा हो ही नहीं सकता है।

पंचगनी अपने प्राकृतक सौन्दर्य एवं ऐतिहासिक महत्व के लिए काफी प्रशिद्ध है। यहाँ आपको पंचगनी का इतिहास काफी पुराण देखने को मिलता है। इसका इतिहास काफी पुराण एवं काफी रोचक है। ब्रिटश काल में इस जगह का इस्तेमाल छुट्टियां बिताने के लिए किया जाता था आज के समय में भी पंचगनी का इस्तेमाल छुट्टियां बिताने के लिए ही किया जाता है। कहा जाता है की ब्रिटिश शासन के दौरान पंचगनी में इसका इस्तेमाल जार्ज चेसन के द्वारा किया गया था।

अगर आप यहाँ आने के बारे सोच रहे हैं तो आपको इस लेख के साथ साथ यह स्थान भी काफी ज्यादा पसंद आने वाला है। यहाँ आपको पंचगनी हिल स्टेशन के साथ साथ और भी काफी कुछ देखने को मिलता है। यहाँ आपको काफी खूबसूरत प्राकृतिक नजारे भी देखने को मिलती है। यह जगह पर्यटकों को घूमने फिरने के दौरान जितना अच्छा लगता है। उतना ही ज्यादा यहाँ का व्यंजन उसे पसंद आता है। यहाँ आपको घूमने फिरने के दौरान काफी कम खर्चे की जरूरत पड़ती है।

पंचगनी के बारे में रोचक तथ्य

  • आज के समय में भी आपको यहाँ ज्यादातर घरों में अंग्रेजी ज़माने के आर्किटेक्टर देखने को मिलते हैं।
  • पंचगनी अपने स्ट्रॉबेरी गार्डन के लिए काफी ज्यादा प्रशिद्ध है।
  • ब्रिटश के ज़माने में इस स्थान का इस्तेमाल छुटियाँ बिताने के लिए किया था साथ ही इस हिल स्टेशन का खोज भी ब्रिटिश शासन के दौरान ही हुआ था।
  • यहाँ आपको पांच पर्वत की चोटियां देखने को मिलती है जिस वजह से इस जगह का नाम पंचगनी हिल स्टेशन रखा गया है।
  • पुरे भारत में यह जगह महाराष्ट्रा के मुख्य हिल स्टेशन के रूप में प्रशिद्ध है।

पंचगनी में लोकप्रिय पर्यटक स्थल ( Panchgani Tourist Places in Hindi)

यहाँ आपको पंचगनी में घूमने के लिए काफी सारि जगहे दिख जाएगी लेकिन यहाँ आप कितने जगहों को घूमना चाहते हैं। यह आपके शोक पर निर्भर करता है। अगर आप कुछ ज्यादे जगहों में घूमना पसंद करते हैं तो इसके लिए आपको यहाँ पर ज्यादा समय देना होता है।

कास पठार

पंचगनी में घूमने वाले स्थानों में एक नाम काश पठार का भी आता है। इसका नाम उनेस्को के वर्ल्ड हेरिटेज साइट में भी इसका नाम आता है। यहाँ आपको काफी सूंदर प्राकृतिक सुंदर वातावरण देखने को मिलता है। यहाँ चारो तरफ काफी खूबसूरत तरह तरह की तितलियों की प्रजातियाँ देखने को मिलती है। साथ ही यहाँ आपको वनस्पतियों के भी 850 से भी अधिक प्रकार की प्रजातियां देखने को मिल जाती है। इस पठार की ऊंचाई पंचगनी हिल स्टेशन से 12 सौ मीटर की ऊंचाई पर स्थित है।

इसे भी पढ़े

यदि आपको प्रकृति से प्रेम है एवं प्रकृतिक सौन्दर्य आपके मन को शकुन एवं शांति देता है तो यह स्थान आपको काफी ज्यादा पसंद आने वाला है। यहाँ आप घूमने फिरने के दौरान शांति के कुछ पल बिता सकते हैं। थकान मिटा सकते हैं।

टेबल लैंड

पंचगनी में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में यह जगह एकदम से ही टेबल की तरह ही सपाट है। यह एशिया के सबसे लम्बे पर्वत पठार के रूप में प्रशिद्ध है। टेबल लैंड के नाम पे यह एक शानदार रिकार्ड है।

यहाँ आप घूमने फिरने के दौरान शाम को होने सुबह शाम के वक्त होने हो वाले शानदर सूर्यास्त एवं सूर्योदय का मजा लेना कभी भी न भूलें। इस समय आप आसमान के खूबसूरत नजारे को कभी भी आप मिस नहीं कर सकते हैं। टेबल लैंड यहाँ पंचगनी के सबसे सुंदर एवं शानदार जगहों में शामिल है।

महाबलेश्वर

पंचगनी में घूमने वाले जगहों में यह काफी खूबसूरत जगह है। यहाँ आपको काफी सुंदर प्राकृतक स्थल देखने को मिल जायेंगे। यह जगह स्ट्रौबेरी के लिए काफी ज्यादा प्रशिद्ध है। यहाँ से घर जाते वक्त आप स्ट्रौबेरी को भी अपने साथ घर ले कर जा सकते हैं।

यह आपको महराष्ट्र राज्य के सतारा जिले में देखने को मिलेगा। साथ ही आपको यहाँ कई सारे प्रचीन मंदिर भी देखने मिल जायेंगे। यदि आपको पंचगनी में घूमने के दौरान यहाँ घूमने के लिए आ रहे हैं तो महाबालेश्वर घूमना कभी भी न भूलें।

पारसी प्वाइंट

महाबालेश्वर में घूमने के दौरान यहाँ आपको एक पारसी पॉइंट देखने को मिल जाता है , जो की कृष्णा नदी एवं घूम पॉइंट के बीच देखने को मिल जायेगा। जो की काफी खूबसूरत एवं मनोरम दृश्य प्रस्तुत करता है। इसके चारों तरफ आपको काफी हरे भरे पेड़ पौधे देखने को मिल जायेंगे। साथ ही यहाँ आप ऊठ के सवारी का भरपूर मजा लेने के मौका मिल जायेगा।

यहाँ घूमने के लिए आ रहे हैं तो अपने साथ कैमरे को रखना कभी भी न भूलें अन्यथा आप यहाँ के खूबसूरत दृश्यों को मिस कर सकते हैं। अगर आप घूमने के दौरान आप यहाँ कुछ शकुन एवं शांति के पल बिताना तो उसके लिए भी यह काफी सही जगह है।

राजपुरी गुफाएं

पंचगनी में घूमने लायक जगहों में यहाँ एक राजपुरी गुफाएँ भी देखने को मिलेगी। यह गुफा यहाँ काफी ज्यादा प्रचलित है। कहा जाता है गुफा सम्बन्ध महाभारत काल से है। महाभारत के समय यही गुफा पांडवों का निवास स्थान हुआ करता था। आज भी आपको यहाँ के आस पास काफी सारे कुंड एवं तलाब देखने को मिल जायेंगे। जो यहाँ आने वाले पर्यटकों के बीच एक अलग ही आकर्षण का केंद्र है।

माना जाता है की यहाँ की इन कुंडों का पानी काफी काफी ज्यादा पवित्र है। इन पवित्र जल का अपना अलग ही विशेष महत्व है। अगर आप इन कुंडों में स्नान करते हैं तो आपके सारे रोग व्याधि एवं कष्ट विकार दूर हो जायेंगे। यहाँ आपको एक भगवान कार्तिकेय का भी शानदार मंदिर देखने को मिलेगा जो जो की यहाँ आने वाले पर्यटकों को विशेष रूप से आकर्षित करता है।

वाई पंचगनी हिल

यहाँ पंचगनी में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में आपको एक छोटा सा गांव देखने को मिलेगा। कहा जाता है की यह गांव अपने साथ घाटों के लिए प्रशिद्ध है। इन सब के अलावा आपको यहाँ काफी सारे प्रशिद्ध मंदिर भी देखने को मिलेंगे एवं यहाँ एक पांडव किला भी है जो की काफी ज्यादा प्रशिद्ध है।

भीलर फॉल

पंचगनी में घूमने वाले जगहों में यदि आपको जलप्रपात एवं खूबसूरत झरना देखने का शौक है तो आपको यहाँ के भीलर फॉल में जरूर से जरूर आना चाहिए। इस झरना का विहंगम दृश्य आपको सिर्फ और सिर्फ सर्दियों के मौसम और मानसून के मौसम में ही देखने को मिलता है। पंचगनी में घूमने के दौरान सबसे शांति एवं ठंडक वाली स्थान में अगर आप जाना चाहते हैं। आपको भीलर फॉल में जरूर से जरूर आना चाहिए। यह झरना आपआपको मुंबई से 148 किलोमीटर देखने को मिल जाती है।

पंचगनी में प्रसिद्ध स्थानीय भोजन

अब बात आती है पंचगनी के प्रशिद्ध भोजन की यहाँ आपको देश के अलग अलग राज्यों पंजाबी गुजरती मराठी में बनने वाले अलग अलग तरह के स्वादिस्ट व्यंजन के भी भरपूर मजा ले सकते हैं। इनके साथ ही यहाँ पर स्ट्रॉबेरी काफी ज्यादा प्रशिद्ध है। यहाँ आपको स्ट्रॉबेरी से बने कई तरह का आइसक्रीम मिल जायेंगे। यहाँ पर आप स्ट्रॉबैरी रसभरी का भी जो भर के स्वाद ले सकते हैं। साथ ही घर जाते समय आप यहाँ से घर के अन्य सदस्यों के लिए भी स्ट्रॉबेरी घर ले जा सकते हैं।

इन सब के अलावा आपको पंचगनी में खाने के लिए भी काफी चीजें मिल जाएगी। उनमे से कुछ का नाम प्रशिद्ध है – मटन , चिकन , बिरयानी , साउथ इंडियन , चाइनीस फ़ूड , कांटिनेंटल फ़ूड , मराठी थाली , गुजरती थाली , बर्गर रोल , स्ट्रौबेरी विद आइस क्रीम , वड़ा पाव एवं मिसल पाव।

पंचगनी में रुकने की जगह

अब अगर आपको पंचगनी में रुकने की चिंता हो रही है तो आपको बात देते है की यहाँ पर आपको काफी सारे होटल रिसार्ट साधारण होटल डीलक्स होटल एसी नॉन ऐसी होटल मिल जायेंगे। जो भी होटल आपके बजट मे फिट आता हो उस होटल को बुक करके आगे की यात्रा का प्लान कर सकते हैं।

पंचगनी में घूमने के लिए सबसे अच्छा समय

अगर आप पंचगनी में घूमने जाने को लेकर परेशान हैं तो आपको बता दें की यहाँ घूमने के लिए सर्दियों का ही मोसम अच्छा होता है जो की अक्टूबर से लेकर अप्रैल के बीच पड़ता है।

आप यहाँ मानसून के सीजन में भी आ सकते हैं जो की जुलाई से लेकर सितम्बर के बीच पड़ता है। इस समय आपको यहाँ का शानदार हरियाली देखने को मिलता है। इन दो सीजनो में कभी भी यहाँ घूमने के लिए आ सकते हैं।

पंचगनी कैसे पहुंचे?

पंचगनी तक जाने के लिए आपके पास तीन तरह के साधन उपलब्ध है। सड़क मार्ग , हवाई मार्ग एवं रेल मार्ग। यह आप पर निर्भर करता है की आपको कौन सा माध्यम घूमने फिरने के लिए काफी अच्छा है।

सड़क मार्ग

अगर आप पंचगनी सड़क मार्ग के द्वारा जाने की सोच रहे हैं तो आपको बताते चलें की पंचगनी सड़क मार्ग के द्वारा पुणे नाशिक घृष्णेश्वर , मुंबई धुले, बोर्डी फ़्लटन , सतारा इन जगहों से काफी अच्छी तरह से जुडी हुई है।

अगर आप पंचगनी सड़क मार्ग के द्वारा जाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको महाराष्ट्र राज्य परिवहन एवं निजी बसें मिल जाएगी। आप चाहे तो अपनी प्राइवेट बस या टैक्सी के द्वारा भी यहाँ तक पहुँच सकते हैं।

रेल मार्ग

अगर आपको रेल से यात्रा करना अच्छा लगता है तो आपको बता दें की यहाँ के नजदीकी रेलवे स्टेशन पुणे है। आपको पुणे के लिए किसी भी राज्य या शहर के मुख्य रेलवे स्टेशन से यहाँ के लिए ट्रेन आसानी से मिल जाएगी। पुणे रेलवे स्टेशन से पंचगनी की दुरी मात्र 105 किलोमीटर है।

हवाई मार्ग

पंचगनी का नजदीकी हवाई अड्डा लोहे गांव हवाई अड्डा है। आप अपने शहर के हवाई अड्डे के माध्यम यहाँ तक आसानी से पहुंच सकते हैं। इस हवाई अड्डे से पंचगनी तक की दुरी 110 किलोमीटर है।

ढाई घंटे के सफर के बाद आप यहाँ तक आसानी से पहुँच सकते हैं।

पंचगनी कैसे घूमें

आप पंचगनी में घूमने के लिए आ रहे हैं तो इसके लिए आपको पहले यहाँ के रेलवे स्टेशन या हवाई अड्डे तक आना होता है उसके बाद आगे की यात्रा आपको यहाँ मिलने वाली रेंटल टैक्सी एवं कार से पूरी करनी होती है।

पंचगनी में घूमने का खर्चा

पंचगनी घूमने वाली पर्यटन स्थलों के भर्मण लिये आपको काम से कम दो दिनों तक के समय का जरूरत होता है। अगर आप एक ही दिन में पंचगनी घूमना चाहते है तो इसके लिए आपको एक दिन का खर्च 1200 रुपया एवं दो दिनों के लिए 3200 रुपया खर्च करना होता है।

इतने खर्चे में आपका घूमना फिरना , रहना सारे चीजों का व्यवस्था हो जायेगा। अगर आप कार स्कूटी या बाइक रेंट में लेना चाहते हैं तो भी आपको यहाँ पर इन चीजों को रेंट पर ले सकते हैं। इन सब के अलावे यदि आप कुछ एक्स्ट्रा खर्च करते हैं तो इसमें आपका खर्च और भी ज्यादा बढ़ जायेगा।

पंचगनी घूमते वक्त साथ में क्या रखें?

अगर आप कहीं पर भी घूमने के लिए निकल रहे हैं तो इन सब के लिए आपको पहले अच्छे खासे अमाउंट की जरूरत पड़ने वाली है। तो आपने बजट के हिसाब आपके पैसा होना बहुत ही ज्यादा जरुरी है। उसके बाद आपके पास ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए। इन सब चीज के साथ साथ खाने पीने की सामान को भी अपने साथ रखना न भूलें कभी भी।

मौसम के अनुसार आपके पास कपडे भी होना अति आवश्यक है । जैसे की आप अगर ठंडी के मौसम में घूमने के लिए जा रहे हैं तो आपके पास ऊनि कपडे होने चाहिए अगर आप बरसात के समय में घूमने के लिए जा रहे हैं तो उसके लिए आपके पास रैनकोट का होना भी काफी ज्यादा जरुरी है।

FAQ

पंचगनी में घूमने के लिए कितने दिनों की जरूरत होती है ?

आप पुरे पंचगनी को मात्र दो दिनों में काफी आसानी से घूम सकते है।

पंचगनी में बिना गाड़ी के यात्रा कैसे करें ?

पंचगनी में यात्रा के लिए आपको स्थानीय बस लेना होता है। क्योंकि यहाँ किसी भी तरह की मेट्रो या लोकल ट्रेन की व्यवस्था नहीं है।

क्या पंचगनी में किसी भी तरह का कोई भी रेलवे स्टेशन है ?

पंचगनी में आपको किसी भी तरह का कोई भी रेलवे स्टेशन नहीं देखने को नहीं मिलने वाले है।

पंचगनी में बोली जाने वाली भाषाएँ कौन सी है ?

पंचगनी में बोली जाने वाली प्रमुख भाषाएँ मराठी , हिंदी एवं अंग्रेजी है।

पंचगनी में बहने वाली नदी कौन सी है ?

पंचगनी में बहने वाली नदी कृष्णा घाटी है।

निष्कर्ष

मैंने अपने इस लेख में पंचगनी में घूमने वाली जगहों ( Panchgani Me Ghumne ki Jagah) से सम्बंधित सारे खर्चों के बारे में काफी सरल एवं आसान शब्दों में समझाने की कोशिश की है।

उम्मीद करते हैं की मेरे द्वारा दी गई यह जानकारी आपके लिए काफी ज्यादा फयदेमंद होने वाली है।

अगर मेरे इस लेख में आपको कही भी किसी भी प्रकार की कोई भी गलती देखने को मिल जाये तो आप उन्हें हमारे कमेंट सेक्शन में पूंछना कभी भी न भूलें।

Leave a comment