10+आगरा में घूमने की जगह, खर्चा और जाने का समय

Agra Me Ghumne ki Jagah : अगर आपको घुमने फिरने का शोक है और आप आगरा में घूमने की जगह के बारे तलाश रहे हैं तो आप बिलकुल सही जगह पर आये हैं। मेरे इस लेख में आपको आगरा में घूमने वाले स्थानों , जाने का सही समय , जाने के लिए सबसे अच्छा माध्यम , पुरे आगरा को किस तरह से घूमें , आगरा का प्रशिद्ध भोजन इन सारी चीजों की जानकारी आपको इस लेख काफी आसान शब्दों में मिलने वाली है।

आगरा का ताजमहल अपने अद्भभुत खूबसूरती के कारण पुरे विश्व में प्रशिद्ध है। यहाँ का ताजमहल विश्व में 8वें अजूबे के रूप प्रशिद्ध है। यह अपने खूबसूरती के कारण सिर्फ भारत में ही नहीं पुरे विश्व में प्रशिद्ध है। यहाँ आप देशी विदेशी हर तरह के पर्यटकों का भीड़ देख सकते हैं।

आगरा मोहब्बत की नगरी के रूप में प्रशिद्ध है। यहाँ आने वाले लोग ज्यादातर आगरा को सिर्फ एवं सिर्फ यहाँ प्रेम की निशानी ताजमहल के लिए ही जानते हैं।

आगरा में घूमने आने वाले ज्यादा पर्यटक आगरा में सिर्फ ताजमहल को ही देख कर चले जाते हैं। आगरा में घूमने के लिए बांकी जगहों के बारे उन्हें पता ही नहीं होता है। तो मेरे इस लेख में आपको आगरा में घूमने वाले पर्यटन स्थलों की अच्छी खासी जानकारी मिलने वाली है।

आगरा के बारे में रोचक तथ्य

  • ताजमहल का रंग पर्ल वाइट कलर होता है , जो की सुबह के समय गुलबी रंग में दिखता है , दिन के समय में इसका रंग सफ़ेद हो जाता है एवं चांदनी रात में यह सुनहरी दिखती है।
  • आगरा यमुना नदी के तट पर बसा हुआ है। आप इसका उल्लेख महाभारत में भी देख सकते हैं।
  • आगरा की मुख्य भाषा ब्रज भाषा है।
  • आगरा में स्थित सिर्फ ताजमहल ही नहीं बल्कि यहाँ के अन्य किले भी यूनेस्को के वर्ल्ड हेरिटेज साइट में देखने को मिलते हैं।
  • ताजमहल को बनाने उस समय 32 करोड़ रूपये की लगत लगी थी। जो आज के समय में 100 मिलियन US $ के समान है।
  • भारत के सबसे पुराने कॉलेजों में से एक आगरा में देखने को मिल जायेंगे।

आगरा में लोकप्रिय पर्यटक स्थल ( Agra Tourist Places in Hindi)

ताजमहल

आगरा का ताजमहल पुरे दुनिया में विश्व के सात अजूबों के रूप में प्रशिद्ध है। इसे प्यार की निशानी के रूप में भी जाना जाता है। इसे बनवाने का श्रेय मुगल बादशाह शाहजहां को जाता है। उन्होंने इसे अपनी पत्नी मुमताज बेगम के याद में 1553 में बनवाया था। अपनी बेगम के नाम पर ही उन्होंने अपने इस महल का नाम ताजमहल रखा।

Taj Mahal
Taj Mahal

इस किले को बनवाने के लिए मुख्य कारीगर के रूप में उस्ताद अहमद लोहरी का नाम आता है। कहा जाता है इसे बनवाने के लिए 21 वर्ष का समय लगा था। और इसमें जिस संगमरमर का इस्तेमाल किया गया है उसे राजस्थान से मंगवाया गया था। इसे बनाने के लिए 20000 मजदूरों ने काम किया था। इसके बन जाने के बाद बादशाह ने मजदूरों के हाथ काट दिए थे ताकि वह कभी भी दूसरी तरह के ताजमहल का निर्माण बिलकुल भी न कर सके। यह ताजमहल आपको यमुना नदी के किनारे देखने को मिलता है।

ताजमहल के आसपास आपको काफी हरे भरे गार्डन भी देखने को मिलते हैं। इस हरियाली भरे माहौल में आपको काफी ज्यादा शकुन एवं शांति मिलेगा। ताजमहल के निचे आप मुमताज की कब्र को भी देख सकते हैं।

आगरा का किला

अगर आप आगरा ताजमहल को देखने के लिए जा रहे हैं तो इसके समीप ही आपको आगरा का किला भी देखने को मिलता है। इतिहासकारों का मानना है आगरा के किले को ताजमहल से पहले ही बना दिया गया था। इस किले का क्षेत्रफल 350 वर्ग किलोमीटर है। 1634 में शाहजहाँ ने आगरा को फिर से बनवाने का काम किया था। आगरा का लाल किला देखने पूरी तरह से आपको दिल्ली के लाल किले जैसा ही लगता है।

फतेहपुर सिकरी

फतेहपुर सिकरी आगरा में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में शानदार जगह है। यह आपको आगरा से मात्र 35 किलोमीटर की दुरी में देखने को मिल जाती है। यहाँ पे बने स्मारक में आप मुस्लिम वास्तुकला के शानदार उदाहरण को देख सकते हैं। मुगल शासक अकबर ने इसे 1571 में बनवाया था।

 Fatehpur Sikri
 Fatehpur Sikri

फतहेपुर सिकरी को पूरी तरह से मक्का मस्जिद की रूप रेखा में बनवाया गया था। इसे बनवाने में हिन्दू एवं पारसी वास्तुकला का इस्तेमाल किया गया है। यहाँ आपको एक बुलंद दरवाजा भी देखने को मिलता है। एवं इस मीनार के दीवार की ऊंचाई 54 मीटर है। मस्जिद को 1563 में बनवाया गया था। यहाँ आपको सलीम चिस्ती की भी एक दरगाह देखने को मिलती है। कहा जाता है की जब कभी भी कोई भी निसंतान औरत यहाँ दुआ मांगने के लिए आती है तो कभी भी उसका दुआ खली नहीं जाता है।

फतेहपुर सिकरी में आपको और भी बहुत कुछ देखने को मिलेंगे – आँख मिचौली , पांच महल , शेख सलीम चिस्ती की दरगाह , शाही मस्जिद, जोधा बाई का महल , अनूप तालाब, ख्वाबगाह।

इत्माद-उद-दौला का मकबरा

सामग्री नूरजहाँ ने इत्माद उद दौला मकबरा को अपने पिता की याद में यमुना नदी के किनारे बनवाया था। इत्माद उद दौला की उपाधि खासकर नूरजहां के पिता को दी जाती थी। इस मकबरे को 1626 से 1628 के बीच बनवाया गया था मकबरे के अंदर आप मुगल कल के कलाकृति को देख सकते हैं।

 Itmad ud Daula
 Itmad ud Daula

मुगलकाल में बने मकबरे में यह मकबरा काफी छोटा मकबरा है। इसलिए इस मकबरे को छोटे ताज के नाम से जाना जाता है। जैसा की अपने ऊपर पढ़ ही लिया है की इस मकबरे को नूरजहां के पिता मिर्जा ग़ालिब को याद में बनवाया गया था। आकर में काफी छोटे होने के कारन इस मकबरे श्रृंगार दान या गहनों की डब्बे के रूप में जाना जाता है। यह मकबरा बेबी ताज के नाम से भी मशहूर है।

इसी मकबरे की सहायता से ताजमहल को बनवाया गया था। पूरी तरह से संगमरमर का बनने वाला यह भारत का पहला मकबरा था। यह मकबरा पर्यटकों के लिए सुबह 6 बजे से शाम के 7 बजे तक खुला रहता है।

अंगूरी बाग

आगरा में घूमने वाले स्थानों में यह महताब बाग शाही बाग के रूप में काफी प्रशिद्ध है। यहाँ आपको एक अंगूरी बाग भी देखने को मिलता है जिसे की पर्यटकों के द्वारा काफी पसंद किया जाता है। इस बाग में आपको देशी विदेशी दोनों तरह के पर्यटक देखने को मिल जाते हैं। इसे बनवाने के लिए लाल बलुवा पत्थर का इस्तेमाल किया गया था और इसे शाहजहां ने 1637 में बनवाया था। इस बाग को विशेषतः बादशाह ने अपने बेगम के लिए बनवाया था। इस बाग के चारो तरह काफी हरियाली देखने को मिलती है। यहाँ का हरा भरा माहौल यहाँ घूमने आने वाले पर्यटकों को काफी ज्यादा पसंद आता है।

मेहताब बाग

आगरा में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में आपको एक और पर्यटक स्थल देखने को मिलते हैं। यह आपको यमुना नदी के ठीक विपरीत दिशा में देखने को मिलता है। जिसका क्षेत्रफल 25 एकड़ है यहाँ आपको तरह तरह के फूलों एवं पेड़ों का बाग देखने को मिलता है। यहाँ आने वले पर्यटकों के लिए यह काफी शांत जगह है जहा आप कुछ देर के लिए शांति के कुछ पल बीता सकते हैं।

Mehtab Bagh
Mehtab Bagh

मेहताब बाग को काला ताजमहल बनाने का प्लान था जिसे की की पैसों की तंगी एवं औरंगजेब की गलत नीतियों के करना सफल नहीं हो पाया।

सुर सरोवर पंछी अभ्यारण

अगर आप पंछी प्रेमी है तो आगरा में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में सुर सरोवर पंछी अभ्यारण में आपका स्वागत है। पंछी अभ्यारण 27 मार्च 1991 में बनकर तैयार हुआ था। अगर आप इस तरह के पंछी को देखने को दखने के शौकीन हैं तो आपको ज्यादा नहीं आगरा से मात्र 20 किलोमीटर की दुरी तय करनी होती है। कीठम झील के किनारे बने इस पंछी अभ्यारण में आपको तरह तरह के प्रवासी पक्षी देखने मिलती है। साथ ही यहाँ आप 100 से अधिक प्रकार के पक्षियों की प्रजातियों को भी देख सकते हैं।

Sur Sarovar Bird Sanctuary
Sur Sarovar Bird Sanctuary

यहाँ देखे जाने वाले कुछ प्रमुख पक्षियों के नाम इस प्रकार से हैं – कांगो डक , शावलर फ्लेमिंगो , स्पून बिल। अगर आप पक्षी प्रेमी हैं तो आपको यह जगह काफी ज्यादा पसंद आने वाला है। पक्षियों की चहचाहट एवं पक्षियों की अठखेलियाँ आपके मन को खूब भाने वाला है। यहाँ घूमने के लिए सबसे अच्छा मौसम एवं समय नवंबर से मार्च के बीच का होता है।

अकबर का मकबरा

आगरा में घूमने वाली जगहों में अकबर का यह मकबरा लोंगो के बीच काफी ज्यादा प्रशिद्ध है। अकबर का यह मकबरा आगरा से 4 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है। जिस जगह में यह मकबरा स्थित है उस जगह का नाम सिकंदरा है , इस शहर का नामकरण शिकंदर लोधी के नाम से हुआ था। इस मकबरे में आपको सभी धर्मों के कला का मिश्रण देखने को मिलता है। इस मकबरे को बनाने के लिए लाल बलुआ पत्थर का इस्तेमाल किया गया था। इसे बनवाने की शुरुवात बादशाह अकबर के द्वारा किया गया था।

Tomb of Akbar the Great
Tomb of Akbar the Great

जमा मस्जिद

आगरा में घूमने वाले स्थानों में सबसे प्रशिद्ध जगहों में से एक नाम यहाँ के जामा मस्जिद का भी आता है। आगरा में स्थित इस जामा मस्जिद का नाम आगरा के सबसे बड़े मस्जिदों में आता है। इस मस्जिद में आप मुगल काल के वास्तुकला को देख सकते हैं। इस जमा मस्जिद का निर्माण शाहजहाँ ने अपनी बेटी जहाँआरा के लिए करवाया था। यह मस्ज्दि पूरी तरिके से मुग़ल शाही अंदाज में बानी है।

दीवानी-ए-आम

आगरा में घूमने वाले स्थानों में दीवानी -ए -आम को शाहजहाँ ने आम जनता के लिए बनवाया था जिसे आज के समय में बैठकी कह सकते हैं। इसे बनवाने के लिए भी लाल बलुवा पत्थर का इस्तेमाल किया गया था। यहाँ आप अध्भुत मुस्लिम वास्तुकला को देख सकते हैं। साथ ही यहाँ आपको एक शानदार पार्क भी देखने को मिलता है। यहाँ के आसपास के हरियाली को भी यहाँ आने वाले पर्यटकों के द्वारा काफी ज्यादा पसंद किया जाता है।

आगरा में खाने के लिए क्या क्या फेमस है?

अगर आप आगरा में घूमने के लिए आ रहे हैं तो आपके लिए जानना आवश्य्क है। आगरा सिर्फ अपने ताजमहल के लिए ही प्रशिद्ध नहीं है। यहाँ आप एक से एक लजीज व्यंजन का भी भरपूर मजा ले सकते हैं। यहाँ आप हर तरह के भारतीय भोजन का मजा ले सकते हैं। आपको यहाँ उत्तर भारत से लेकर दक्षिण भारत तक के हर तरह के व्यंजन का स्वाद लेने का मौका मिलता है। आइये जानते हैं आगरा में पर्यटकों के द्वारा पसंद किये जाने वाले कुछ खास प्रकार के डिश के बारे , जो की यहाँ के स्थानीय लोंगे के द्वारा भी काफी पसंद किये जाते हैं।

‌पेठा

आगरा में मुख्य व्यंजन के रूप में पेठा को काफी ज्यादा पसंद किया जाता है। यहाँ आने वाले पर्यटकों के द्वारा इसे काफी ज्यादा पसंद किया जाता है। यह पेठा पुरे दुनियां में प्रशिद्ध है। यहाँ आपको तरह तरह के पेठा का मजा लेने का मौका मिलता है। उनमे से कुछ मुख्य प्रकार के पैठा निम्नलिखित है – चेरी मेंगो पेठा , पनीर पेठा , चॉकलेट पेठा , सैंडविच पेठा , पान पेठा , केसर अंगूरी पेठा कंचा पेठा।

यहाँ आप अपने भर्मण के दौरन दो प्रकार के पेठा को देख सकते हैं एक सूखा एवं कठोर पेठा और दूसरी तरह नरम एवं तरल पेठा। यहाँ का पेठा दुनिया भर में प्रशिद्ध होने के कारन इसे काफी देशों में एक्सपोर्ट भी किया जाता है। इसलिए जब कभी भी आगरा आ रहे हैं तो यहाँ के पेठा को अपने साथ पैक करवा एक ले जाने का मौका कभी भी न छोड़े।

आगरा का पराठा

आगरा में सुबह के समय में नास्ते के रूप में पराठे को काफी ज्यादा पसंद किया जाता है। आप भी सुबह के नास्ते की शुरवात पराठे से ही कर सकते हैं। यहाँ आपको विभिन्न तरह के पराठे देखने मिल जायेंगे। यहाँ पराठे को तैयार करने के लिए कई तरह की सब्जियों जैसे आलू कद्दूकस , गाजर एवं फूलगोभी को भी स्टफिंग किया जाता है। चटनी के साथ इसे खाने का मजा ही कुछ और होता है।

यहाँ आप आगरा में भर्मण के दौरान कई तरह के पराठे के वेरायटी को देख सकते हैं। आगरा में आपको काफी सारे मुगलई व्यंजन भी देखने को मिलते हैं। आगरा में घूमने के दौरान आप इसे सुबह के नास्ते में शामिल करने का मौका कभी भी न छोड़े।

आगरा का भल्ला

अगर आप तीखे मशालेदार एवं चटपटे चीजों के शौकीन हैं। तो आगरा के भल्ले का स्वाद चखना बिलकुल भी न भूलें। यह यहाँ का एक प्रकार का स्वादिस्ट स्ट्रीट फ़ूड है , जिसका स्वाद यहाँ आने वाले पर्यटकों के द्वारा काफी शानदार तरीके से लिया जाता है।

इसे बनाने के लिए मैस किये हुए आलू का इस्तेमाल किया जाता है। मैस किये हुए आलू में कई तरह के मशाले को मिलकर के बेशन का रोल बना करके के गर्म तेल में फ्राई करके तैयार किया जाता है। उसके बाद इसे माश्लेदार चटनी एवं स्वादिस्ट सब्जी के साथ परोसा जाता है।

आगरा का डालमोथ

आगरा का दालमोठ भी यहाँ के पर्यटकों को खूब भाता है। भुने हुए दाल एवं स्वादिस्ट मेवे की मिक्सिंग से इसे तैयार किया जाता है। इसे आगरा में नास्ते के रूप काफी ज्यादा पसंद किया जाता है। दालमोठ एक प्रकार का नमकीन मिक्स्चर होता है जिसे चूड़ा मुड़ी के साथ नास्ते के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसके साथ ही यहाँ आपको तरह तरह के मिठायों जैसे जलेबी ,सौरमा को भी चखने का मौका मिलता है।

आगरा घूमने जाने का सबसे अच्छा समय

वैसे तो आप आगरा में सालों भर पर्यटकों को घूमते हुए देख सकते हैं। लेकिन अगर आगरा में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में सबसे अच्छे मौसम और समय की बात की जाय , तो यहाँ घूमने के लिए सर्दियों का मौसम सबसे ज्यादा सुहावना होता है। इस दौरान न तो ज्यादा ठंडी होती है और नहीं ज्यादा गर्मी होती है।

ठंड के मौसम में घूमने के लिए हल्का धुप आपके लिए घूमने के दौरान काफी ज्यादा मददगार साबित होने वाला है।

अगर बात करें गर्मी के समय में घूमने की तो यही धुप गर्मियों के समय आपका दुश्मन बन जायेगा। इसलिए जब कभी में आगरा में घूमने का प्लान बना रहे हैं तो हमेशा सर्दियों के समय में घूमने का प्लान बनायें।

आगरा कैसे पहुंचे?

आगरा के ताजमहल की ख्याति सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि पुरे विश्व में प्रशिद्ध है। इसलिए आप देश की किसी भी कोने से यहाँ तक रेल , बस एवं हवाई मार्ग द्वारा काफी अच्छे तरीके से तथा सुवधाजनक तरीके से पहुंच सकते हैं।

ट्रेन मार्ग द्वारा कैसे पहुंचे

अगर आप बजट ट्रेवलर हैं तो आगरा जाने के लिए ट्रेन आपके लिए सबसे ज्यादा सस्ता किफायती एवं सुविधाजनक होता है। आगरा में वैसे तो बहुत सारे रेलवे स्टेशन हैं लेकिन मुख्यतः यहाँ आपको तीन रेलवे स्टेशन देखने को मिलते हैं- आगरा फोर्ट , आगरा शहर एवं आगरा कैंट। सबसे ज्यादा बिजी रहने वाले रेलवे स्टेशन में यहाँ का सुप्रशिद्ध रेलवे स्टेशन आगरा कैंट का नाम आता है। अगर आप दिल्ली , भोपाल जयपुर , एवं झांसी जैसे शहरों से हैं तो आपको आगरा के लिए रोजाना ट्रेन मिल जाएगी।

वायु मार्ग के द्वारा

अगर आपका बजट अच्छा खासा है। एवं आप जल्दी जाना चाहते हैं। समय को बचाना आपका प्राथमिकता है तो हवाई मार्ग आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प है। यहाँ का नजदीकी हवाई अड्डा खेरिया हवाई अड्डा है जो की भारत के सभी प्रमुख शहरों के हवाई अड्डा से काफी अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

यह खेरिया हवाई अड्डा भारत से 12.5 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है। यह हवाई अड्डा अपने घरेलु सेवाओं के लिए काफी ज्यादा प्रशिद्ध है।

अगर आप इण्डिया के बाहर से आ रहे हैं या फिर आपको भारत के किसी भी शहर से आगरा के लिए सीधे फ्लाइट नहीं मिल रही है। तो उसके लिए आप दिल्ली के इंद्रागाँधी हवाई अड्डा के लिए टिकट बुक कर सकते हैं। फिर आगरा तक जाना चाहते हैं तो फ्लाइट भी ले सकते हैं या फिर बस या टैक्सी से पहुँच सकते हैं।

आगरा में कहाँ रुके?

अब बात करते हैं आगरा में रुकने के लिए तो यहाँ रुकने के लिए एक से बढ़कर एक होटल मिल जायेंगे। यहाँ आओ सस्ती एवं महंगी हर तरह के होटल को बुक कर सकते हैं। यहाँ आप दिल्ली से भी ज्यादा फाइव स्टार होटल देख सकते हैं। अगर आपका बजट अच्छा खासा है तो आप इन होटलों में भी काफी ठाट बाट से रह सकते हैं।

होटल बुक करते समय हमेशा इस बात का ख्याल रखें की आप जब कभी भी होटल को बुक करें तो ताजमहल एवं आगरा केंट के पास ही होटल बुक करें। होटल आगरा के पर्यटन स्थलों के करीब होने के कारन आपको घूमने में काफी ज्यादा आसानी होता है।

आगरा कैसे घूमे?

आगरा में घूमने के सारे पर्यटन स्थलों का भर्मण करने के लिए आपको काफी सारे विकल्प मिल जायेंगे। अगर आपको बाइक अच्छा लगता है। यहाँ आपको रेंट पर बाइक एवं स्कूटी मिल जाती है। जिसके मदद से आप पुरे आगरा को अपनी मर्जी से घूम सकते हैं।

अगर आप अपने परिवार वालों के साथ या किसी भी मित्र के साथ घूमने का प्लान बना रहे हैं तो इसके लिए आप टैक्सी ऑटो या ओला बुक कर सकते हैं। अगर आपको अकेले ही घूमना पसंद है तो आपके लिए बस ऑटो टैक्सी का सबसे अच्छा विकल्प है।

आगरा घूमने के लिए कितने दिन की योजना बनाए?

यूँ तो आगरा में घूमने के लिए काफी कुछ है लेकिन आगरा सिर्फ एवं सिर्फ ताजमहल के लिए ही प्रशिद्ध है। यहाँ आने वाले ज्यादातर पर्यटकों का पसंदीदा जगह आगरा ही है। इसे आप मात्र 1 दिन में ही आसानी से घूम सकते हैं।

लेकिन आप यदि आगरा के ताजमहल के साथ साथ और भी पर्यटन स्थलों को देखना चाहते हैं तो इसके लिए आपको एक और दिन रुकने की जरूरत हैं। यानि की तब आपको 2 दिन रुकना होता है।

आगरा घूमने का खर्च?

आगरा में घूमने का खर्चा आपके घूमने के तरीके पर निर्भर करता है। आप यहाँ दोनों ही तरीकों से घूम सकते हैं खहने का मतलब आप चाहे तो काम बजट बना कर भी घूम सकते या यहाँ आप चाहे तो अधिक बजट में भी घूम सकते हैं। अगर आगरा में आप सबसे सस्ते होटल की तलाश में हैं तो आपको यहाँ 500 से 700 के बीच काफी शानदार होटल मिल जाते जाते हैं। खाने पीने के लिए आपको 700 से 800 का खर्चा निकलना होता है। इसके अलावा आप ट्रांसपोर्टेशन में इस्तेमाल किये जाने वाले खर्चों को भी जोड़ सकते हैं।

इस तरह से आप खुद ही अंदाजा लगा सकते हैं की आपको घूमने फिरने के दौरान कितन ज्यादा खर्च करना होता है एवं कितना सेविंग करना होता है।

FAQ

आगरा में सबसे महशूर चीज क्या है ?

आगरा घूमने आने वाले पर्यटकों के लिए सबसे मशहूर यहाँ का तजमहल है।

आप आगरा कितने दिनों में घूम सकते हैं ?

आगरा घूमने के लिए 1 से 2 दिन काफी हैं।

आगरा जाने सबसे अच्छा समय कौन सा है ?

आगरा जाने के लिए सबसे समय अक्टूबर से अप्रैल के बीच का होता है।

ताजमहल कब बंद रहता है ?

ताजमहल शुक्रवार को बंद रहता है।

ताजमहल में किस चीज को ले जाने की अनुमति नहीं है ?

ताजमहल में खाना , धूम्रपान एवं किसी भी तरह के हथियार का ले जाना सख्त माना है।

ताजमहल के नीचे क्या छिपा है ?

ताजमहल के नीचे आपको मुमताज की कब्र देखने को मिलती है।

निष्कर्ष

आज के मेरे इस लेख में आपको आगरा में घूमने वाली जगहों के बारे में सारी जानकारीकाफी सरल शब्दों में मिलने वाली है।

आशा करते हैं की मेरे द्वार दी गई आगरा में घूमने वाली स्थानों से सम्बंधित यह आपको आगरा के यात्रा में काफी मददगार साबित होने वाला है। अगर मेरा यह लेख आपके किसी भी काम आया हो तो इसे आप अपने सोशल मिडिया में अपने मित्रो एवं रिश्तेदारों के साथ शेयर करने का मौका कभी भी न छोड़े।

मेरे इस लेख से सम्बंधित यदि आपके मन में किसी प्रकार का सुझाव एवं विचार चल रहा है। तो इसे कमेंट सेक्शन में जरूर शेयर करें।

Leave a comment