15+ अमृतसर में घूमने की जगह, खर्चा और जाने का समय

Amritsar Me Ghumne ki Jagah : इस लेख में भारत प्रशिद्ध राज्य पंजाब के अमृतसर में घूमने की जगह के बारे में आपको जानकारी मिलेगी। यहाँ आप अमृतसर के स्वर्ण मंदिर के बारे सकते हैं। इस लेख में पंजाब के अमृतसर में घूमने से सम्बंधित सरे सवालों के जवाब आपको आसानी से मिल जाएँगी , बस शुरू से अंत तक आप इस लेख में बने रहें।

अमृतसर में घूमने की जगह, खर्चा और जाने का समय

अगर आप अमृतसर में घूमने की योजना बना रहे तो स्वर्ण मंदिर को इसमें इस यात्रा में शामिल करना कभी भी न भूलें , अन्यथा आपका यात्रा अधूरा रह जाता है या फिर अमृतसर जाने का कोई फायदा नहीं होता है।

अमृतसर के इस पवन भूमि में आपको अमृतसर , पंजाब , स्वर्ण मंदिर और इससे जुड़े सिख समुदाय और इनके इतिहास के बारे में जानने को मिलती है। कैसे आजादी के समय सिखों ने अंग्रेजों के प्रति आपना बलिदान दिया और अपना खून बहाया। यहाँ आपको सिख समुदाय के आध्यत्मिक गुरु श्री गुरु नानक देव जी के बारे में जानने को मिलती है।

इस लेख में आप अमृतसर में घूमने की जगह और उनके आसपास के दर्शनीय स्थलों सिख समुदाय, यहाँ के स्थानीय भोजन , कैसे घूमने,तथा कब जाएँ रुकने की जगह के बारे सारी जानकारी आसानी मिल जाएगी।

अमृतसर के बारे में रोचक तथ्य – Interesting Fact About Amritsar In Hindi

  • स्वर्ण मंदिर को हर मंदिर साहिब या दरबार साहिब के नाम से जाना जाता है।
  • एक दिन में सबसे ज्यादा पर्यटकों का विजिट करने का रिकॉर्ड स्वर्ण मंदिर को जाता है।
  • इस मंदिर को बनाने में का इस्तेमाल किया गया है इसलिए इसका नाम स्वर्ण मंदिर पड़ा , यह गुरुद्वारा सिखों के लिए पवित्र स्थान है। जहाँ हर धर्म के लोगों का स्वागत है।
  • इस गुरूद्वारे की देखरेख की जिम्मेदारी सुप्रीम गुरुद्वारा प्रबंधक समिति को जाती है। साथ ही इस कमिटी के द्वारे देश के सारे गुरूद्वारे की देखरेख की जाती है।
  • विश्व के सबसे बड़े किचन हॉल होने का गिनीज बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड इसी स्वर्ण मंदिर को जाता है।
  • इसका निर्माण सिखों के पांचवे गुरु अर्जुन ने 1585 में करवाया था।
  • यहाँ के लंगर की शुरुआत गुरु नानक जी देव ने की किया था।
  • यह गुरुद्वारा विश्व का सबसे बड़ा गुरुद्वारा है।
  • यहाँ का लंगर हॉल देश के सबसे बड़े लंगर के रूप में जाना जाता है। जिसमे यहाँ आने वाले शर्धलुवों को प्रसाद के रूप में भरपेट शाकाहारी भोजन कराया जाता है।
  • इस गुरद्वारे में चार मुख्य दरवाजे हैं जो की चारों दिशाओं में है। इसका मतलब यह है की यहाँ पर चारों धर्मों के लोगों का यहाँ पर स्वागत है।

अमृतसर में लोकप्रिय पर्यटक स्थल (Amritsar Tourist Places in Hindi)

स्वर्ण मंदिर – Golden Temple In Hindi

अमृतसर में घूमने की जगह की बात करें तो सबसे पहले स्वर्ण मंदिर का नाम आता है। क्योंकि अमृतसर स्वर्णमंदिर के लिए ही पुरे विश्व में प्रशिद्ध है। स्वर्ण मंदिर का दूसरा नाम हरमंदिर साहिब है। जिसे का निर्माण कार्य 1581 में शुरू हुआ था और यह 1604 में बनकर तैयार हुआ था।

Shri Harmandir Sahib Golden temple
Source : Shri Harmandir Sahib Golden temple

इस तरह से यह मंदिर 20 वर्षों में बनकर तैयार हुआ। इस मंदिर का इतिहास 400 साल पुराना माना जाता है। इस गुरूद्वारे को नष्ट करने के लिए मुगलों और आक्रमणकारियों ने कई बार प्रयास किया। 1762 में अहमद शाह अब्दाली ने इस मंदिर को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया था , फिर बाद में महाराजा रणजीत सिंह ने इसका जीर्णोद्वार करवाया। मंदिर को सोने से ढकवाने का श्रेय इन्हीं को जाता है।

1984 में फिर इस मंदिर में खतरा आया था , आतंकवादियों ने इसे अपने कब्जे में कर लिया था। लेकिन उस समय के प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने ब्लूस्टार ऑपरेशन के तहत इस मंदिर को आतंकवादियों के चंगुल से बचाया था। बाद में इस मंदिर का क्षति पूर्ति सिख और हिन्दू धर्म के समयदाय के लोगों ने मिलकर किया था।

स्वर्ण मंदिर का चर्चा हिन्दुओं के धर्म ग्रंथ में भी देखने को मिलता है। कहा जाता है मर्यादा पुर्शोतम श्री राम चंद्र के पुत्र लव और कुश शिक्षा ग्रहण करने और रामायण का पाठ पड़ने के लिए इस सरोवर में आये हुए थे।

इस मंदिर के चारों तरफ काफी सुंदर और पवित्र झील देखने को मिलती है जिसका पानी रावी नदी से आता है। यहाँ की मान्यता है की इस नदी में डुबकी लगाने से लोगों के सारे चर्म रोग खत्म हो जाते हैं। यहाँ आपको भारत का सबसे बड़ा लंगर हाल भी देखने को मिलता है , जिसमे रोजाना लाखों लोग भोजन करते हैं और बैसाखी जैसे पर्वों में इसकी संख्या लाखों के पार चली जाती है।

वाघा बॉर्डर – Wagah Border in Hindi

अमृतसर में घूमने की जगह के लिए काफी प्रशिद्ध पर्यटन स्थल बाघा बॉर्डर है जो की आपको देशभक्ति की भावना से ओत प्रोत कर देता है। यह भारत और पाकिस्तान के बीच का एक सड़क है जो सीमा के रूप में काम करता है। यह अमृतसर से मात्र 28 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है।

Wagah Border
Source : Wagah Border

शाम के समय यहाँ पर्यटकों का काफी ज्यादा भीड़ देखने को मिलता है सारे भीड़ रिट्रीट सेरोमनी देखने के लिए उमड़ते हैं। यहाँ आने वाले पर्यटक सैनिकों का हौसला बढ़ाते हैं।

यहाँ आने के लिए आपको अमृतसर से टैक्सी या बस मिल जाएगी जिसकी सहायता से आप यहाँ तक की यात्रा आसानी से कर सकते हैं। यहाँ आते वक्त एक बात का विशेष ध्यान रखें ,यहाँ आप मोबाइल या केमरा के अतिरिक्त किसी और सामान को नहीं ले के जा सकते हैं।

इसे भी पढ़े

10+ अमदाबाद में घूमने की जगह जाने का समय और खर्चा

10 + गुड़गाँव में घूमने की जगह , खर्चा और जाने का समय

अमृतसर में घूमने की जगह के रूप में प्रशिद्ध इस पर्यटन स्थल में अपने प्रीपेड सिम का इस्तेमाल नहीं कर सकते हैं , क्योंकि यह क्षेत्र इंटरनेशनल बॉर्डर के अंतर्गत आता है। हर रोज शाम के वक्त यहाँ शानदार परेड आ आजोजन होता है जो की सचमुच आपके यात्रा को शानदार एवं यादगार बना देता है।

दुर्गयाना टेम्पल – Shri Durgiana Temple in Hindi

पंजाब के अमृतसर में घूमने की जगह के रूप में प्रशिद्ध यह दुर्गियाना टेम्पल दुर्गा माता का मंदिर है। इस मंदिर को सिल्वर टेम्पल और शीतला माता भी कहा जाता है। कहा जाता इसी जगह पर लव और कुश ने अश्वमेघ यज्ञ के घोड़े को पकड़ा था।

Durgiana Temple
Source : Durgiana Temple

और इसी जगह में लव और कुश ने राम लक्मण भरत और शत्रुघन से यद्ध किया था , इसका विश्लेषण पौराणिक धर्मग्रंथों में देखने को मिलता है। इस मंदिर की खूबसूरती और नक्काशी अद्भुत है जिस कारण से इसे दूसरा स्वर्ण मंदिर कहा जाता है।

राम तीर्थ मंदिर – Ram Tirath Mandir In Hindi

अमृतसर में घूमने की जगह में यात्रा के दौरान रामतीर्थ मंदिर में आना पर आपको अध्भुत अलौकिक अनुभव देता है। क्योंकि यहाँ के चारों तरफ का देवीय वातावरण , प्रतिमाएं और खूबसूरत झोपड़ियां आपको एकदम से त्रेता युग में होने का अहसास देता है। इस मंदिर की भव्यता और खूबसूरती यहाँ आने वाले पर्यटकों की यात्रा को अलौकिक बना देती है।

Ram tirath Mandir Amritsar
Source : Ram tirath Mandir Amritsar

इस मंदिर को महर्षि वाल्मीकि जी के समर्पण में बनाया गया है। हिन्दू के धार्मिक ग्रंथों के अनुसार इस जगह पर मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम ने अपनी भार्या माता सीता का त्याग किया था , जिसके बाद महर्षि ने इसी जगह में माता सीता को आश्रय दिया था। जहाँ उन्होंने लव कुश को जन्म दिया था। और लव कुश दोनों ने इसी जगह में महर्षि जी से शिक्षा का ग्रहण किया था।

यहाँ का वातवरण बेहद ही अलौकिक है जो की आपकी यात्रा को पूरी तरह से डिवाइन अहसास देता है। और अमृतसर में घूमने की जगह राम तीर्थ मंदिर में आपको असीम शांति का अनुभव होता है , बिलकुल मोक्ष जैसा। इस मंदिर के परिसर में आपको एक काफी खूबसूरत सा तालाब भी देखने को मिलता है जिसकी खुदाई स्वयं भगवान हनुमान जी के द्वारा किया गया था। इस खूबसूरत सी मंदिर की दुरी अमृतसर से मात्र 11 किलोमीटर है।

अक्टूबर तथा नवंबर के महीनों में पूर्णिमा के समय में अमृतसर में घूमने की जगह के रूप में प्रशिद्ध इस पवित्र मंदिर में काफी शानदार मेले का आयोजन होता है जो की यात्रा में चार चाँद लगा देता है।

गोविंदगढ़ किला – Govindgarh Fort In Hindi

अमृतसर में घूमने की जगहों में प्रशिद्ध यह खूबसूरत सा पर्यटन स्थल ऐतिहासिक धरोहर के रूप में जाना जाता है। यदि आप इतिहास में रूचि रखते हैं तो फिर यहाँ पर आपका स्वागत है। यहाँ आने पर आपको प्राचीन समय के राजा रानी के रहन सहन खान पान और उनके द्वारा उपयोग में लाये जाने वाले पहनावे वस्त्र और औजार को देखने का मौका मिलता है। साथ ही युद्ध में इस्तेमाल किये गए तोपों को भी आप देख सकते हैं

Gobindgarh Fort
Source : Gobindgarh Fort

इस किले को बनवाने का श्रेय गुज्जर सिंह को जाता है जिन्होंने 1760में अमृतसर में घूमने की जगह के रूप में भईज दा किला के रूप में इसको पहचान दिलाया था।

जलियांवाला बाग – Jallianwala Bagh in Hindi

जलियांवाला बाग अमृतसर में घूमने की जगह में स्वतंत्रता संग्राम के भयंकर अतीत को बयां करती है। यह अमृतसर रेलवे स्टेशन से मात्र 4 किलोमीटर की दुरी पर है। इस बाग़ का क्षेत्रफल 6.5 एकड़ है।

Jallianwala Bagh
Source : Jallianwala Bagh

वैशाखी पूर्णिमा के दिन इस बाग़ में हजारों की संख्या में लोग सभा करने के लिए एकत्रित हुए थे और इस बाग में निकलने का सिर्फ एक छोटा सा रास्ता ही था। जिस पर ब्रिटिश के क्रूर शाशक जनरल डायर ने अपनी टैंक लगाकर सभा में उपस्थित हुए सभी बच्चे बड़े जवानों तथा औरतों को गोलियों से भून दिया था। 13 अप्रेल 1919 में घटी इस घटना को अभी भी आप यहाँ पर देख सकते हैं।

यहाँ की दीवारों पे आज भी आपको गोलियों के निशान देखने को मिलते हैं। इस परिसर में एक कुआँ भी था उस कुँवें में भी कितने सारे लोगों ने जान बचाने के छलांग लगाई थी। इस कुवें की मट्टी आज भी लाल मिलती है।

अगर आप अमृतसर घूमने आ रहे हैं तो फिर इस जगह को घूमना कभी भी न भूलें , यहाँ आप अपने स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान को जान सकते हैं।

पार्टीशन म्यूजियम – Partition Museum in Hindi

आजादी के लड़ाई के समय पंजाब के सिखों और अमृतसर का काफी अहम रोल रहा है। अमृतसर में घूमने की जगह पार्टीशन म्युसियम में आप इसे साफ तोर पर देख सकते हैं।

अमृतसर में घूमने की जगह के रूप प्रशिद्ध यह पर्यटन स्थल पार्टीशियन म्युसियम अंग्रेजों के द्वारा किये गए क्रूर अत्याचारों को समझने में मदद करता है। यहाँ का जलियावाला बाग़ हत्याकांड अंग्रेजों द्वारा किया गया सबसे बड़ा क्रूरता है। इस म्युसियम में आप भारतीय सैनिकों के त्याग बलिदान देख सकते हैं समझ सकते हैं। जिसे आज भी वीडियोग्राफी के माध्यम से संभल कर रखा गया है।

Partition Museum
Source : Partition Museum

साथ ही यहाँ आप ब्रिटिश ज़माने के न्यूज़ पेपर को भी देख सकते हैं , आजादी के बाद पब्लिश पहले न्यूज़ पेपर को भी देख सकते हैं।

यदि आप सच्चे देशभक्त हैं और इतिहास प्रेमी हैं तो फिर आप खुद को इस म्युसियम में जाने से नहीं रोक सकते हैं।

साड्डा पिंड – Sadda Pind In Hindi

यदि आप अमृतसर घूमने के लिए जा रहे हैं और पंजाबियों के कल्चर, रहन सहन, खेती बाड़ी तथा खान पान के बारे में जानने के लिए बेताब हैं तो फिर अमृतसर में घूमने की जगह साड्डा पिंड में आपका स्वागत है। जो की पंजाबी गांव के रूप में भी काफी ज्यादा प्रशिद्ध है।

Sadda Pind
Source : Sadda Pind

अमृतसर से मात्र 8 किलोमीटर की दुरी पर यह गांव स्थित है। जहा पर आपको पंजाबियों के लाइफ स्टाइल के बारे में करीब से जानने का मौका मिलता है। उनकी रोजमर्रा की जिंदगी में उपयोग में आने वाली सभी चीजों तथा खाने पीने का प्रदर्शनी आपको यहाँ देखने को मिलता है।

यहाँ पर आप घोड़े की सवारी और ऊंट की सवारी का भी भरपूर मजा ले सकते हैं। यहाँ पर आपको एक बड़ा सा बाजार भी देखने को मिलता है जहाँ आप अपने मनपंद की चीजों की खरीदारी कर सकते हैं और अपनी यात्रा यादगार बना सकते हैं।

थंडर जोन मनोरंजन और वाटर पार्क – Thunder Jone Entertainment In Hindi

यदि आप गर्मी में अमृतसर में घूमने के रहे हैं एवं यहाँ की चिलचिलाती गर्मी में आप परेशान हैं तो फिर अमृतसर में घूमने की जगह थंडर जॉन मनोरंजन और वाटर पार्क में आपका स्वागत है।

Thunder Zone Amusement and Water Park
Source : Thunder Zone Amusement and Water Park

इस पार्क का निर्माण 2002 में कराया गया था। गर्मियों के समय में यहाँ बच्चों , बड़ों तथा युवाओं सभी का भीड़ देखने को मिलता है। यहाँ आप तरह तरह के वाटर एक्टिविटी जैसे की म्यूजिक बॉब, मोनो ट्रेन स्विमिंग चेयर , कोलम्बस और रोलर कॉस्टर का भी मजा ले सकते हैं।

खालसा कॉलेज – Khalsa Collage In Hindi

भारत में ऐतिहासिक शिक्षण संस्थान के रूप में प्रशिद्ध खालसा कॉलेज अमृतसर में घूमने की जगह में काफी खूबसूरत पर्यटन स्थल है। यह 300 एकड़ के क्षेत्रफल में फैला हुआ है। इसकी स्थापना 124 पहले हुआ था। शिक्षा के क्षेत्र में इस कॉलेज को सर्वोच्च्य सिख संस्थान का सम्मान प्राप्त है।

Khalsa College
Source : Khalsa College

अकाल तख्त – Akal Takht In Hindi

अकाल तख्त अमृतसर में घूमने की जगह के लिए काफी खूबसूरत और बेहतरीन पर्यटन स्थल है। यह आपको स्वर्ण मंदिर के बगल में देखने को मिलता है। अकाल तख़्त का नाम सिख धर्म के पांच तख्तों से एक है। यह सिख गुरुओं की पवित्र सीट के रूप में जाना जाता है। यह एक ऐसी जगह है जहाँ सभी को न्याय मिलता है।

Akal Takhat
Source : Akal Takht In Hindi

यहाँ आप सिख धर्म के पुरानी पुस्तकों और लिपियों को भी देखने का मौका मिलता है। अमृतसर में घूमने की जगह के रूप में प्रशिद्ध इस धार्मिक स्थल का भर्मण करना कभी भी न भूलें।

यहाँ का प्रवेश बिलकुल ही निशुल्क है , यहाँ आप रोजाना सुबह 5 बजे से शाम को 10 बजे तक दर्शन के लिए आ सकते हैं।

हरिके वेटलैंड और पक्षी अभयारण्य – Harike Wetland and Bird Sanctuary

यदि आप पशु पक्षी प्रेमी हैं तो अमृतसर में घूमने की जगहों में यह हरी वेटलैंड और पक्षी अभ्यारण आपके लिए किसी स्वर्ग से कम नहीं है। यह पक्षी अभ्यारण उत्तर भारत के सबसे बड़े वेटलैंड के रूप में प्रशिद्ध है।

 Harike Wetland & Bird Sanctuary
Source :  Harike Wetland & Bird Sanctuary

यहाँ आपको विभिन्न प्रकार के जीवजंतुओं के कई प्रजातियों देखने को मिलती है तथा यहाँ आप सात प्रकार के कछुवों की प्रजाति देखने मिलती है। सर्दियों के मौसम में यहाँ घूमने का मजा ही अलग होता है इस समय आप प्रवासी पक्षियों के आवागमन को देख सकते हैं। जो की आपकी यात्रा को और भी शानदार बना देता है।

फनलैंड कंपनी बाग़ – Funland Company Bagh Amritsar In Hindi

यदि आप अमृतसर में बच्चों के साथ या परिवार के साथ घूमने आ रहे हैं तो फिर अमृतसर में घूमने की जगह में फनलैंड कंपनी बाग़ आपके लिए सर्वोत्तम जगह है। क्योंकि इस पार्क को विशेषतः बच्चों को ही ध्यान में ही रख कर बनाया गया है।

Funland Park Amritsar
Source : Funland Company Bagh

यहाँ बच्चों के मनोरंजन के लिए काफी कुछ देखने को मिलता है, जैसे यहाँ पर लगे झूले और अर्टिफिशियल पशु पक्षी। साथ ही बच्चों के साथ साथ बड़े के लिए भी बोटिंग और अन्य तरह की एडवेंचर एक्टिविटी शामिल है।

अमृतसर में घूमने की जगह फनलैंड कपंनी की खास बात यह है की यहाँ आप किसी भी मौसम में आप घूमने के लिए आ सकते हैं।

अमृतसर में 2 दिन में घूमने लायक जगह (Places to Visit in Amritsar in 2 Days)

  • इस्कॉन टेम्पल
  • सिद्ध शक्ति पीठ लाल माता टेम्पल
  • थंडर जोन मनोरंजन एंड वाटर पार्क

अमृतसर में 1 दिन में घूमने लायक जगह (Places to Visit in Amritsar in 1 Day)

  • इस्कॉन टेम्पल
  • सिद्ध शक्ति पीठ माता टेम्पल
  • थंडर जोन मनोरंजन और वाटर पार्क
  • वाघा बॉर्डर
  • स्वर्ण मंदिर
  • हरिके वेटलैंड और पक्षी अभ्यारण
  • खालसा कॉलेज
  • गोविंदगढ़ किला
  • फनलैंड कपंनी बाग़
  • हरिका वेटलैंड एंड पक्षी अभ्यारण

अमृतसर में दोस्तों के साथ घूमने लायक जगह (Places to Visit in Amritsar with Friends)

  • खालसा कॉलेज
  • गोविंदगढ़ किला
  • फनलैंड कंपनी बाग़
  • फनसिटी वाटरपार्क
  • इस्कॉन टेम्पल
  • सिद्धि शक्ति पीठ लाल माता टेम्पल
  • थंडर जोन मनोरंजन और वाटर पार्क

अमृतसर में कपल के साथ घूमने लायक जगह (Places to Visit in Amritsar for Couples)

  • भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव समाधी
  • तरन तारण गुरुदेव अमृतसर
  • फनसिटी वाटर पार्क
  • इस्कॉन टेम्पल
  • सिद्ध शक्ति टेम्पल लाल माता टेम्पल
  • थंडर जोन मनोरंजन और वाटर पार्क
  • जलियांवाला बाग़
  • गोविंदगढ़ किला
  • दुर्गयाना टेम्पल

अमृतसर में गोल्डन टेंपल के आस पास घूमने लायक जगह (Tourist Places in Amritsar Near Golden Temple)

  • वाघा बॉर्डर
  • स्वर्ण मंदिर
  • हरिके वेटलैंड और पक्षी अभ्यारण
  • खलसा कॉलेज
  • गोविंदगढ़ किला
  • फनलैंड कंपनी बाग़
  • हरिका वेटलैंड पक्षी अभ्यारण
  • साड्डा पिंड
  • पार्टीशन म्युसियम

अमृतसर में प्रसिद्ध स्थानीय भोजन (Amritsar Famous Food Places)

पंजाब के अमृतसर का खाना सिर्फ पंजाब में ही नहीं पुरे भारत में प्रशिद्ध है। कहा जाता है पंजाबी लोग खाने पीने के बड़े शौकीन होते हैं। यही कारण है की इस क्षेत्र के युवाओं ने देश लिए ओलिंपिक जैसे खेलों में काफी योगदान दिया। यहाँ आपको ज्यादातर बॉक्सर रेसलर और कुस्ती के प्लेयर ज्यादा देखने को मिलते हैं। इससे तो आप यहाँ के खान पान का अंदाजा लग ही सकते हैं।

यहाँ के लंगर का भोजन पूरी तरह से शुद्ध शाकाहारी होता है जिसमे प्रसाद के रूप में रोटी विभिन्न तरह की सब्जी दाल मीठा खीर तथा अन्य तरह के शाकाहारी स्वादिस्ट और पौष्टिक भोजन परोसा जाता है।

यहाँ पर्यटकों के लिए शाकाहरी और मांशाहारी दोनों तरह के भोजन का व्यवस्था देखने को मिलता है। यहाँ आप भोजन के रूप में रोटी, दाल, सब्जी, मटन टिक्का तंदूरी चिकन , खारोल का शोरबा, शमी कवाब, बैंगन का भर्ता , पालक पनीर ले सकते हैं।

अगर आप अमृतसर आये हैं तो फिर यहाँ के लस्सी का स्वाद चखना बिलकुल भी न भूलें , यहाँ का लस्सी सिर्फ पंजाब या अमृतसर में ही नहीं बल्कि पुरे भारत में प्रशिद्ध है। अगर आप दक्षिण भारत के भोजन या कॉन्टिनेंटल भोजन के शौकीन है तो उसकी भी भरपूर व्यवस्था आपको यहाँ पर मिल जाएगी।

अमृतसर घूमने के लिए सबसे अच्छा समय (Best Time to Visit Amritsar)

ठंडे प्रदेशों को छोड़कर यदि आप कहीं पर भी घूमने के लिए जा रहे हैं तो सर्दियों का मौसम ही घूमने के लिए सबसे अच्छा माना जाता है। इसलिए आप जब कभी भी अमृतसर के लिए यात्रा का प्लान करें तो हमेशा ऑक्टूबर से मार्च के महीनों में ही प्लान करें , इस समय आप बड़े इत्मीनान के साथ मजे मजे में अपनी ट्रिप को पूरा कर सकते हैं।

वही अगर आप गर्मी के महीनों में आते हैं तो फिर आपको चिलचिलती गर्मी में यात्रा के दौरान काफी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

बरसात के मौसम में भी आप अपनी यात्रा को आनंदमय नहीं बना सकते हैं इसलिए सर्दियों का मौसम ही घूमने फिरने के लिए बेस्ट माना जाता है।

अमृतसर घूमने के लिए कैसे पहुंचे? – How To Reach Amritsar

अमृतसर पंजाब और भारत दोनों के लिए प्रशिद्ध और प्रमुख शहर इसलिए अगर यहाँ के यातायात की बात करें , यहाँ का रेल मार्ग हवाई मार्ग और सड़क मार्ग देश सभी प्रमुख शहरों से काफी अच्छी जुड़ा होने के कारण यहाँ आपको आने में किसी भी तरह के परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। क्योंकि रोजाना यहाँ पर हजारों की संख्या में पर्यटकों का

ट्रेन मार्ग से – By Train

यदि आप ट्रेन के द्वारा अमृतसर आना चाहते हैं तो आप भारत के प्रमुख शहर ,मुंबई, दिल्ली , चंडीगढ़, कोलकाता पटना से डायरेक्ट ट्रेन ले सकते हैं अन्यथा सबसे पहले आप अपने गाँव या कस्बों से भारत के प्रमुख शहर के लिए टिकट बुक करा लें , जो आपको डायरेक्ट अमृतसर के लिए ट्रेन उपलब्ध करा देता हो।

बस के द्वारा – By Bus

अमृतसर का राष्ट्रीय राजमार्ग भारत के विभिन्न शहरों से अच्छी तरह से जुड़े होने के कारन आप अपनी प्राइवेट कार या सरकारी बस के मदद से आसानी से यात्रा को मजेदार बना सकते हैं। पंजाब सरकार ने खासतौर पर अमृतसर के लिए भारत के कुछ प्रमुख शहरों से निजी बसों की व्यवस्था उपलब्ध करवाई है।

हवाई मार्ग से – By Airways

अमृतसर में एक अंतरास्ट्रीय हवाई अड्डा है जो देश के सारे प्रमुख हवाई अड्डों से काफी अच्छी तरह हुआ है। साथ ही यह हवाई अड्डा विदेशों से काफी अच्छी तरह से जुड़ा है। इसलिए आप देश विदेश कहीँ से भी आसानी से यहाँ पहुँच सकते हैं।

भारत के मुख्य शहरों से अमृतसर की दूरी

चेन्नई 2,657.4

हैदराबाद 2,033.2

अहमदाबाद 653.5

बैंगलोर 2,624.3

मुंबई 1,791.9

कोलकत्ता 2008.2

जोधपुर 803.1

जयपुर 647.9

दिल्ली 479.9

अमृतसर में रुकने की जगह – Best Places To Stay In Amritsar

यदि आप अमृतसर में घूमने की जगह को यात्रा का मन बना लिया है और अमृतसर में रुकने की जगह की तलाश में हैं तो फिर यह जान लें यहाँ आपको दोनों तरह होटल हाई बजट और लौ बजट वाले होटल जाते हैं। यहाँ आप अपने बजट के अनुसार होटल को चुन सकते हैं और अपनी यात्रा को काफी यादगार बना सकते हैं।

अगर आप होटल से भी काम खर्चे में या बिलकुल फ्री में रहना चाहते हैं तो फिर आप गोल्डन टेम्पल के आसपास बने हुए धर्मशाला में रह सकते हैं। जहाँ आपको गुरद्वारे की तरफ से काफी अच्छी सुविधा दी जाती है, जिसमे गद्दे चादर और नहाने के लिए गर्म पानी की भी व्यवस्था दी जाती है।

अमृतसर में कैसे घूमे? – How To Visit Amristsar

अमृतसर में घूमने की जगह को एक्स्प्लोर करने के लिए बस टैक्सी और ऑटो मदद ले सकते हैं। यहाँ आपको हर चीज की सुविधा मिल जाती है। अगर आप परिवार के साथ आये हैं और निजी रूप से घूमना चाहते हैं तो फिर आप किराये का कार या टैक्सी बुक कर सकते हैं।

अगर आप अकेले हैं तो फिर आप अपने लिए बाइक या स्कूटी रेंट में लेकर पुरे अमृतसर में घूमने जगहों मजा ले सकते हैं।

अमृतसर घूमने के लिए कितने दिन की योजना बनाए? – How many days should you plan to visit Amritsar?

अमृतसर में विश्व का सबसे बड़ा गुरुद्वारा स्वर्ण मंदिर है , जो की पुरे देश व विदेश में प्रशिद्ध है। आगरा के ताजमहल के बाद सबसे ज्यादा पर्यटक अमृतसर के स्वर्ण मंदिर को ही देखने के लिए जाते हैं। स्वर्ण मंदिर के साथ अमृतसर में घूमने की जगह में और भी काफी सारे पर्यटक स्थल हैं। यहाँ आपको देश का सबसे बड़ा लंगरहाल भी देखने को मिलता है। जहाँ रोजाना लाखों की सांख्या में लोग लंगर चखते हैं।

इस तरह से यदि आप अमृतसर में घूमने की जगह में सारे पर्यटन स्थलों को घूमने का मन बना चुके हैं तो उसके लिए 3 से 4 दिन अवश्य देने होते हैं।

अमृतसर में घूमने का खर्चा – Cost Of Visiting Amritsar

अमृतसर में घूमने का खर्चा आपके घूमने के तरीके पर निर्भर करता है। आप रुकने किस तरीके के होटल का उपयोग करते हैं , घूमने के लिए किस तरह के साधन का प्रयोग करते हैं।

अगर आप 2 दिनों के लिए अमृतसर में घूमने की जगह को एक्स्प्लोर करने का प्लान बना रहे हैं तो कितने भी सस्ते या लो बजट वाले में रुकते हैं तो फिर उसके लिए आप 1500 से 2000 तक खर्च करने होते हैं। खाने की बात करें तो उसके लिए 150 से 200 का थाली पड़ता है। यदि घूमने के लिए प्राइवेट टैक्सी या ऑटो बुक करते हैं तो उसके लिए 1500 से 2000 देने होते हैं।

इस तरह से कुल मिला जुला करके अमृतसर में 2 दिन में घूमने फिरने का खर्च 3500 से 4000 पड़ता है।

निष्कर्ष

इस लेख के माध्यम से आप जान पाएंगे अमृतसर में घूमने की जगह (amritsar mein ghumne ki jagah) , जाने का समय , कैसे जाएँ , कहा रुकें (best places to stay in amritsar) , कितना खर्च करना होता है ? इन सारी चीजों की जानकारी आपको इस लेख में आसानी से मिल जाती है। जिसके मदद से आपको अपनी यात्रा को प्लान करने में काफी मदद मिलती है।

साथ ही इस लेख को अपने ऐसे दोस्तों या रिश्तेदारों के साथ शेयर करना न भूलें , जो अमृतसर में घूमने की जगह की जानकारी लेने के लिए इक्छुक हैं।

इसके बाद भी अगर इसके सम्बंधित कोई भी सवाल हो तो आप इसे अपने कमेंट सेक्टशन में पूछ सकते हैं। आपको यथा संभव सहायता दी जाएगी।

अमृतसर की मशहूर चीज क्या है ?

अमृतसर की मशहूर चीज स्वर्ण मंदिर है।

अमृतसर में सबसे ज्यादा आकषर्ण केंद्र काया है ?

यहाँ के स्वर्ण मंदिर की सुनहरी वास्तुकला और देश का सबसे बड़ा लंगर हॉल यहाँ आने वाले पर्यटकों के लिए मुख्य आकर्षण का केंद्र है।

अमृतसर में घूमने के लिए सबसे अच्छा समय कौन सा है ?

अमृतसर में घूमने के लिए अक्टूबर से मार्च तक का समय , यानि की सर्दियों का समय बेस्ट मन जाता है।

अमृतसर में कौन सी मिठाई प्रशिद्ध है ?

यहाँ की सबसे ज्यादा प्रशिद्ध मिठाई जलेबी है।

अमृतसर में कितना सोना है ?

अमृतसर को बनाने में 750 किलोग्राम सोने का इस्तेमाल किया गया है।

अमृतसर में कौन सी नदी बहती है ?

अमृतसर में बहने वाली प्रमुख नदी रावी नदी है।

Leave a comment