20+ लखनऊ में घूमने की जगह, जाने का सही समय और खर्चा

यदि आप लखनऊ में घूमने की जगह(Lucknow me Ghumne ki Jagah) के बारे में जानकारी लेना चाहते है तो फिर आपके लिए यह लेख काफी मददगर साबित हो सकता है। यहाँ आपको लखनऊ घूमने के बारे में सारी जानकारी आसानी से मिल जाएगी , बस आप इस लेख के साथ शुरू से अंत तक बने रहे।

इस लेख की सहायता से आप लखनऊ के बारे में , लखनऊ घूमने के बारे में , लखनऊ की प्रशिद्ध जगह जाने का समय , कैसे जाएँ , कहा रुकें प्रशिद्ध भोजन , शॉपिंग करने के लिए कौन सी मार्किट सही रहेगा सारी चीजों के जानकारी इस लेख के माध्यम से आसानी से मिल जाएगी।

लखनऊ में घूमने की जगह, जाने का समय और खर्चा

लखनऊ को नवाबो का शहर भी कहा जाता है , यह उतर प्रदेश की राजधानी है। उत्तर प्रदेश का नाम भारत सबसे बड़े शहरों में आता है। लखनऊ गोमती नदी के किनारे बसा हुआ है। लखनऊ को इसकी समृद्ध संस्रकृति और प्राचीन विरासत के ही जाना जाता है।

लखनऊ में घूमने की जगह काफी मशहूर, ऐतिहासिक और खूबसूरत है। इसकी अद्भुत खूबसूरती के करण है हर साल यहाँ लाखों की संख्या में पर्यटक आते हैं और अपनी यात्रा को काफी खूबसूरत बनाते हैं। कहा जाता है इस लखनऊ का निर्माण भगवान राम के भाई द्वारा किया गया था उन्होंने गोमती नदी के किनारे लक्ष्मण पुर नाम के नगर का निर्माण करवाया था। जिसे पुराने समय में लखनपुर के नाम से जाना जाता था और अब लखनऊ के नाम से जाना जाता है।

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में आप यहाँ चंद्रिका देवी मंदिर, आनंदी वाटर पार्क, लखनऊ चिड़ियाँ घर, जानेश्वर मिश्रा पार्क, साइंस सिटी, अम्बेडकर पार्क, बड़ा इमामबाड़ा और मरीन ड्राइव और भी अन्य तरह के पर्यटन स्थल और दर्शनीय स्थल को देख सकते हैं।

लखनऊ से संबंधित रोचक तथ्य

  • लखनऊ उत्तर प्रदेश की राजधानी है और इसका नाम भारत के सबसे बड़े शहरों में आता है।
  • यह गोमती नदी के किनारे बसा हुआ है।
  • लखनऊ को नवाबों का शहर भी कहा जाता है।
  • लखनऊ शहर को भगवान राम के भाई ने बनवाया था , जिसे पहले लखनपुर के नाम से जाना जाता था जो की बाद में बदल कर लखनऊ कर दिया गया है।
  • अभी के समय में लखनऊ पूरी दुनियाँ में लखनऊ अपनी विनम्र संस्कृति और शुद्ध शैली के कारण अपनी अलग पहचान रखता है।
  • लखनऊ ही वह शहर है जहाँ कुछ वाद्य यंत्र टेबल, सितार तथा कत्थक जैसे नृत्य का अविष्कार हुआ था।
  • लखनऊ को भारत के सबसे खुश रहने वाला कहा जाता है।
  • यहाँ आपको बहुत सारी इमारतें देखने को मिलेंगी जो की राजाओं के काल से बानी हुई है।
  • वर्तमान समय में लखनऊ लखनऊ में घूमने जगह के साथ साथ यह अपने व्यापारी और मेट्रो पोलेटन सिटी के रूप में भी काफी प्रशिद्ध है।

लखनऊ में घूमने की जगह (Lucknow Tourist Places in Hindi)

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में दार्शिनय स्थल, ऐतिहासिक स्थल, पार्क ,मंदिर चिड़ियों घर बहुत कुछ देखने मिलेगा , जो की आपको भरपूर आनंद देता है। खासकर इतिहास प्रेमियों के लिए यह जगह किसी स्वर्ग से कम नहीं है। इस लेख में आपको इन सब चीजों की जानकारी विस्तार से मिलेगी।

मरीन ड्राइव

लखनऊ का मरीन ड्राइव लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में सबसे ज्यादा पसंदीदा पर्यटन स्थल के रूप में जाना जाता है। इसकी खूबसूरती मुंबई के मरीन ड्राइव से कम नहीं है यहाँ शाम के वक्त का नजारा काफी खूबसूरत होता है चांदनी रातों में इसकी खूबसूरती देखते ही बनती है।

Marine drive
Source : Marine Drive

यदि आप लखनऊ घूमने के लिए आ रहे है तो फिर यहाँ पर आना कभी भी न भूलें , यह आपको गोमती नदी और अं बेडकर पार्क के बीच दखने को मिलता है।

जानेश्वर मिश्र पार्क

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में विशेष पहचान रखने वाला यह जानेश्वर मिश्रा पार्क एशिया के सबसे बड़े पार्क के रूप में प्रशिद्ध है जिसके निर्माण श्रेय समाजवादी पार्टी को जाता है।

इसकी नींव 6 अगस्त 2012 में राखी गयी थी और यह 5 अगस्त 2014 में बनकर तैयार हुआ था। इस पार्क को लन्दन के हाइट पार्क से प्रेरित होकर बनाया गया है।

इस पार्क को बनवाने में 375 करोड़ जमीन का उपयोग किया गया है और यहाँ के दूसरी तरफ में 40 अकड़ की जमीन पर कृत्रिम झील का निर्माण करवाया गया है। इन दोनों की खूबसूरती पर्यटकों को काफी लुभाती है। प्रकृति प्रेमियों के लिए यह पार्क किसी स्वर्ग से काम नहीं है , यहाँ के केंद्र में आपको 207 फ़ीट का एक भारतीय तिरंगा देखने को मिलता है। और यहाँ पर 25 फ़ीट की का मूर्ति भी देखने को मिलती है जो की समाजवादी पार्टी के नेता जनेश्वर मिश्रा की है।

उत्तर प्रदेश की लखनऊ के घूमने की जगह के रूप में प्रशिद्ध इस पार्क में आपको न सिर्फ झील और पार्क देखने को मिलते हैं यहाँ आप भारतीय सेना के लड़ाकू विमान 21 भी देखने को मिलता है। अगर आप इस इस पार्क में घूमने के लिए आ रहे हैं तो फिर यह आपके मनोरंजन में कोई कमी नहीं छोड़ता है।

साइंस सिटी लखनऊ

साइंस सिटी लखनऊ लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में काफी प्रशिद्ध पर्यटन स्थल है। यदि आप अपने बच्चों के साथ आ रहे हैं या फिर अकेले आ रहे हैं। अलीगंज इलाके में स्थित इस साइंस सिटी में आपको अवश्य घूमना जाना चाहिए।

Science City
Image : Sceience City

यह साइंस सिटी आपको विज्ञान से जुडी काफी कुछ सिखने का मौका देता है यहाँ आपको देश विदेश की तरह तरह की टेक्नॉलजी को जानने का मौका देती है। साथ ही यह आपको मेडिकल साइंस और यूनिवर्स के बारे में बहुत कुछ सिखाता है।

अम्बेडकर पार्क

अम्बेडकर पार्क लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में प्रशिद्ध यह पार्क गोमती नगर के क्षेत्र में बसा हुआ है। जो की काफी खूबसूरत पार्क है। यहाँ पर्यटक शहर के भागदौड़ से दूर कुछ देर शकुन के पल बिताने के लिए आते हैं। और अपने स्ट्रेस को कम करने के लिए आते हैं।

Ambedakar Park
Source : Ambedkar Park

इस अम्बेडकर पार्क को डॉ. भीम राव आंबेडकर के याद में बनवा गया था जिसने अपने जिंदगी को मानवीय न्याह के लिए समर्पित कर दिया था। इसके निर्माण का श्रेय उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मायावती को जाता है जिन्होंने इसे 2008 में बनवा कर पूरा किया था ।

इस पार्क में आपको सेकड़ो की सांख्या में हाथियों की प्रतिमा देखने को मिलती है जो देखने बिलकुल सजीव हाथियों जैसा ही परतीत होता है। अम्बेडकर जयंती के यहाँ रंगारंग कारकर्म का आयोजन होता है और आंबेडकर जयंती को मानाया जाता है।

इस पार्क को बनवाने में खास तरह के गुलाबी रंग के पथरों का निर्माण किया गया था , रंगीन रौशनी में शाम के समय इसकी खूबसूरती और भी अद्भुत हो जाती है।

बड़ा इमामबाड़ा लखनऊ

बड़ा इमामघर लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में काफी प्रशिद्ध पर्यटन स्थलों में से एक है। लखनऊ पुरे भारत में अपने इतिहासिक धरोहर के रूप में काफी प्रशिद्ध है। यहाँ आपको बहुत सारी इतिहासिक इमारते भी देखने को मिलेगी इनमे से एक नाम आता है।

Bada Imambara Ghar
Source : Bada Imambara Ghar

यह मुस्लिमों के लिए काफी पवित्र और धार्मिक स्थल माना जाता है। यहाँ पर मुस्लिम समुदाय के लोग अपनी पर्व त्यौहार को काफी धूमधाम से बनाया जाता है। अगर आप लखनऊ घूमने के लिए जा रहे हैं तो इसे अपने टू डु लिस्ट में अवश्य शामिल कर लें। लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में प्रशिद्ध इमामबाड़ा का हॉल एशिया के सबसे बड़े हॉल प्रशिद्ध है अगर आप यहाँ घूमने का मन बना रहे हैं यहाँ तब ही घूमने के लिए जाएँ जब आपके पास दो घंटे का समय हो , क्योंकि यहाँ घूमने के लिए 2 घंटा का समय लग जाता है।

इसका निर्माण लखनऊ के नवाब ने करवाया था उसी के नाम पर इसका नाम रखा गया था। इसे बनाने के श्रेय आसफुद्दौला को जाता है जिसने 1754 में इसका निर्माण करवाया था , और यह १४ वर्षों में बनकर तैयार हुआ था। इमामबड़ा में आपके घूमने के लिए बहुत सारी जगहें देखने को मिलती है जैसे की घंटाघर , पिक्चर गैलेरी, भूल भुलैया, बावली गार्डन और रूमी दरवाजा।

इमामबड़ा में पर्यटकों के लिए सबसे बड़ा आकर्षण का केंद्र यहाँ का भूलभुलैया , यहाँ का एक कहानी काफी प्रशिद्ध है एक बार 100 बाराती यहाँ पर घूमने के लिए आये थे जो कभी वापस नहीं आ पाए।

इसलिए जब कभी भी आप यहाँ घूमने के लिए आ रहे हैं तो फिर उस समय अपने साथ गाइड को अवश्य रख लें जो की आपको भटकने नहीं देगा , यहाँ का प्रवेश शुल्क मात्र 50 रुपया है।

गोमती नदी नौका विहार

Nouka vihar
Source : Nouka vihar

यदि आप लखनऊ घूमने की लिए आ रहे हैं आप को नाव की सवारी का शौक है तो गोमती नदी जाना कभी भी न भूलें। यहाँ आप नौका विहार के साथ साथ शहीद समारक को भी देख सकते हैं जो आपके अंदर देशभक्ति की भवना को प्रेरित करता है। इस तरह से घूमने के साथ साथ यहाँ आप देशभक्ति का अहसास भी हो जायेगा।

चिड़िया घर लखनऊ

अगर आप लखनऊ में घूमने आ रहे हैं और आप पशु पक्षी प्रेमी है तो फिर आपका लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में लखनऊ के चिड़िया घर में आपका स्वागत है। जो की 71 एकड़ के क्षेत्रफल में फैला हुआ है। यह चारबाग रेलवे स्टेशन से चार किलोमीटर की दुरी पर स्थित है। इस चिड़ियाँ घर में आपको बहुत तरह एक पशु मिलेंगे जैसे वुल्फ, ग्रेट पाइड,शेर और रॉयल बंगाल टाइगर।

chidiya ghar
Source : Chidiyan ghar

साथ ही यहाँ आपको एक खूबसूरत सा झील भी देखने को मिलता है जहाँ आप नौकायन के रूप में पैडल बॉट का भरपूर आनंद ले सकते हैं। इसके अलावा आप यहाँ विभिन तरह के रोमांचक एवं फन एक्टिविटी का आनंद ले सकते हैं जैसे की रेल गाड़ी की सवारी कारण और हांथी की सवारी करना। पर्यटक यहाँ अपने परिवार और बच्चों के साथ पिकनिक मानाने के लिए भी आते हैं।

हजरतगंज मार्केट

लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में यह मार्केट काफी प्रशिद्ध है। यहाँ आप काफी भीड़ देख सकते हैं यहाँ रोजाना सैकड़ों की संख्या में लोग शॉपिंग करने के लिए इस मार्किट में आते हैं। लखनऊ में हजरत गंज मार्किट शॉपिंग मार्किट के रूप में काफी प्रशिद्ध है।

Hajratganj Market
Hajratganj Market

इस मार्केट में आज के समय में पहले की तुलना में काफी ज्यादा विकाश देखने को मिलता है। यदि आप लखनऊ घूमने के लिए आ रहे हैं और किसी भी तरह की शोपिंग करना चाहते हैं। लखनऊ के इस हजरत गंज मार्केट में आना कभी भी न भूलें। आर्केड का मतलब होता है एक ही छत के नीचे काफी सारी शॉपिग का होना , जहाँ आप जो चाहे उसे खरीद सकते हैं। इसलिए यहाँ पर आपको हर छोटी से लेकर बड़ी चींजे आसानी से मिल जाति है।

कांस्टेंटिया (ला मार्टीनियर स्कूल)

लखनऊ में घूमने की जगह में प्रशिद्ध यह पर्यटन स्थल कांस्टेंटिया अंग्रजों की इतिहस के बारे में काफी अच्छी तरह से बतता है , इसकी स्थापना 1845 ईस्वी में की गयी थी। यदि आप अंग्रेजों के इतिहास के बारे में जानना चाहते हैं तो फिर यह जगह आपके लिए बिलकुल पैफक्ट है। यहाँ आपको अंग्रेजों के ज़माने में उपयोग होने वाले बहुत सरे वस्तुएं देखने को मिलती है।

Kanstentiya school
Source : kanstentiya la martin school

इस जगह की एक विशेषता यह है की यहाँ आपको प्रेंच जनरल मार्टिन- जनरल क्लाउड मार्टिन का मकबरा देखने को मिलता है , क्योंकि यही वह जगह है जहा पर वे रहते थे। इस तरह से यह जगह अंग्रेजों के द्वारा उपयोग में लाये जाने वस्तुओं को देखने के लिए म्युसियम का काम करता है।

दिलकुशा कोठी

दिलकशा कोठी लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में इतिहास प्रेमियों के लिए काफी पसदीदा जगह है। इसका निर्माण मेजर गोर के द्वारा सन 1800 करवाया गया था। पहले यह कोठी शिकार लाज के रूप में जाना जाता था , लेकिन आज इसे बदल कर महल कर दिया गया है।

Dilshkusha  kothi

आजादी से पहले अंग्रेजों से युद्ध के दौरन इस महल को काफी कुछ झेलना पड़ा जिसक कारण इन्होने ने अपना इसलिए अस्तित्व को खो दिया यानि की युद्ध के दोरान बम बारूद तोप गोले के कारण इन्हे काफी कुछ नुकशान का सामना करना पड़ा। आज के समय में यह जगह लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में काफी पसंद किया जा रहा है।

फिरंगी महल

फिरंगी महल लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में काफी प्रशिद्ध है इस महल का नाम फिरंगी इसलिए पड़ा क्योंकि इस महल का मालिक यूरोपीय थे। इस व्यापारी एक सम्बन्ध नील से था। बाद में इस महल को सरकारी खानों में बदल दिया गया था।

Firangi Mahal

इसके बाद फिर औरंगजेब के सलाहकारों के द्वारा और इसके भाइयों के द्वारा इसे इस्लामिक स्कूल के रूप में बदल दिया है। इतिहास प्रेमियों के लिए यह जगह घूमने के लिए काफी अच्छा है। अगर आप लखनऊ घूमने के लिए आ रहे हैं। तो यहाँ घूमना कभी भी न भूलें।

ब्रिटिश रेजिडेंसी

ब्रिटिश रेजीडेंसी लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में एक महत्वपूर्ण ऐतिहसिक स्थल के रूप में काफी प्रशिद्ध है। यह गोमती नदी के किनारे बसा हुआ है , रेसीडेंसी मतलब होता है निवास स्थान , जहाँ ब्रिटिश रेजिडेंट का निवास स्थान हुआ था।

British Residency
Source : British Residenci

भारत के सवतत्रता के लड़ाई में इस जगह काफी अहम रोल है। इस लड़ाई में ब्रिटिश का एक बड़ा हिस्सा खत्म हो गया था। यहाँ आपको अभी भी तोप के गोले दिखने को मिलते हैं। इस परिसर में का खंडहर भी है जिसमे 2000 ब्रिटिश सैनिकों, पुरषों , बच्चों और महिलओं की कब्र देखने को मिलती है।

आज के समय में यह एक खंडहर में बदल गया है जो की यहाँ आने वाले पर्यटकों के लिए काफी पसंदीदा जगह है।

चंद्रिका देवी का मंदिर

चंद्रिका देवी मंदिर लखनऊ में घूमने की जगह के रूप में एक पवित्र धार्मिक स्थल है। धार्मिक सभाओं के लिए यह मंदिर काफी चर्चित है। रोजाना इस मंदिर में सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु आते हैं और अपनी मनते पूरी करते हैं। लखनऊ में घूमने की जगह के रूप प्रशिद्ध यह मंदिर देवी चंडी को समर्पित है।

Chandrika devi mandir
Source : Chandrika devi mandir

इस मंदिर में आपको लक्ष्मी, काली और सरस्वती का सयुंक्त रूप देखने मिलता है। इस मंदिर के परिसर में आपको एक तालाब भी देखने को मिलता है जिसमे आपको भगवान शिव की मूर्ति देखने को मिलती है।

अगर आप इत्मीनान से पूजा अर्चना करना चाहते हैं तो फिर यहाँ आप सुबह आने की कोशिश करें।

लखनऊ में फन रिपब्लिक मॉल (शॉपिंग मॉल)

लखनऊ में यह मॉल लखनऊ में घूमने की जगह में काफी अच्छी और प्रशिद्ध जगह है। इस माल नाम लखनऊ के बड़े बड़े मालों में से आता है। यह मॉल काफी बड़ा है और यहाँ आपको अपने जीवन के रोजमर्रा में इस्तेमाल किये जाने वाले सारी चीजें आसानी से मिल जाती है। यह आपको तरह तरह के ब्रांड के कपड़े देखने को मिलते हैं और यहाँ आपको कॉस्मेटिक की सारी वस्तुएँ भी आसानी से मिल जाएगी।

lakhnow me   fun repblic maal
Source : lakhnow me fun repblic maal

साथ यदि आप अपने बच्चों के साथ यहाँ आ रहे हैं तो फिर आपके लिए यह घूमने के काफी अच्छी हो सकती है। यहाँ बच्चों के लिए काफी कुछ करने के लिए फन एक्टिविटी मौजूद है। बच्चों के घूमने के लिए खाने के लिए खेलने के लिए काफी कुछ है। साथ ही यहाँ आपको पार्किंग के लिए काफी बड़ी जगह मिलती हैं , जहाँ आपको अपनी गाड़ी को पार्क करने में किसी तरह के परेशानी का सामना करना नहीं पड़ता है।

लखनऊ का जामा मस्जिद

इस मस्जिद का निर्माण दिल्ली के जामा मस्जिद को पार करने के लिए करवाया गया था। यह मस्जिद की लोकेशन लखनऊ के हुसैनाबाद के तहसीलगंज में है। इस मस्जिद को बनवाने का श्रेय राजा मोहमम्द अली शाह को जाता है।

Jama masjid

यह मस्जिद काफी बड़ा भव्य और बहुत ही खूबसूरत है। मुस्लिम धर्म के लोगों के लिए यह किसी जन्नत से कम नहीं होता है। यहाँ बड़ी सांख्या में मुस्लिम समुदाय के लोग घूमने एवं नमाज पड़ने के लिए आते हैं। यहाँ हिन्दुओं को भी घूमने के लिए खुली छुट्ट है।

कैसरबाग पैलेस

यदि आप लखनऊ शहर में घूमने के लिए जा रहे हैं तो फिर आप इस पैलेस को घूमने जाना कभी भी न भूलें। इस पैलेस को नवाब वाजिद अली शाह के शासन काल में बनवाया गया था। 1848 से 1850 ईस्वी के समय में इसे बनवाया गया था।

kesar bag pelesh
Source : Kesarbag pelash

यह पैलेस लखनऊ के लोकप्रिय स्मारकों के रूप में काफी प्रशिद्ध है , इसकी प्रशिद्धि का मुख्य कारण मुगल काल के वास्तुकला का होना।

छत्तर मंजिल

छतर मंजिल लखनऊ में घूमने की जगह में प्रशिद्ध पर्यटन स्थल है जिसका दूसरा नाम अम्ब्रेला पैलेश भी है। यहाँ आपको देखने के लिए अनेकों कमल तथा विशाल गुम्बंद देखने मिलेंगे। छतर मंजिल को गाजी नवाब ने बनवाया था।

यह गोमती नदी के तट पर बसा हुआ है। इसे बनवाने के बाद इसका उपयोग अवध के शाशक तथा उनकी पत्नियों के द्वारा किया गया , यहाँ आपको इंडो यूरोपियन का अद्भुत संगम देखने को मिलता हैं।

लखनऊ का प्रशिद्ध मंदिर

  • श्री वेंकटेश्वर मंदिर
  • चन्द्रिका देवी मंदिर
  • अलीगंज हनुमान मंदिर
  • हनुमान मंदिर
  • मनकामेश्वर मंदिर

लखनऊ घूमने का सही समय

यदि आप लखनऊ घूमने का मन बना रहे हैं तो फिर सर्दियों का मौसम आपके लिए आपके लिए सर्वोत्तम हो सकता है। यह मौसम घूमने के लिए काफी सुहावना होता है , इस मौसम में आते समय सर्दियों के समय उपयोग होने वाले गर्म कपड़ों को अपने साथ लाना कभी भी न भूलें।

गर्मियों के मौसम में यहाँ घूमना सम्भव नहीं है क्योंकि घूमने के दौरान यहाँ आपको काफी दिक्क्तों का सामना करना होता है। जो आपके यात्रा के मजा को ख़राब कर देता है।

लखनऊ कैसे घूमें?

यदि आप लखनऊ घूमने के लिए जा रहे हैं और आप अगर पुरे लखनऊ की यात्रा पैदल करना चाहते हैं तो फिर यह आपके लिए सम्भव नहीं है। यहाँ पुरे लखनऊ को घूमने के लिए आपको रेलवे स्टेशन के बाहर आपको तरह तरह के ऑटो बाइके ऑटो रिक्सा रेंट में मिल जायेंगे।

अगर आप कम कीमत में बाइक लेना चाहते हैं तो फिर उसके लिए आपको स्कूटी मात्र 400 रूपये में मिल जायेंगे। अगर आप इससे भी काम कीमतों में पुरे लखनऊ को घूमना चाहते हैं तो फिर आपके लिए सर्वोत्तम विकल्प टूरिस्ट बस होता है। जो लखनऊ में घूमने की जगह में 8 पर्यटक स्थलों में घूमाने का काम करता है।

इस तरह से आप अपने बजट के अनुसार लखनऊ में यात्रा का मजा ले सकते हैं।

लखनऊ कैसे पहुंचे?

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ भारत के सभी छोटे बड़े शहरों से काफी अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। रेल मार्ग , सड़क मार्ग और हवाई मार्ग तीनों का कनेक्शन लखनऊ शहर से काफी अच्छी तरह से है। जो भी आपके बजट में आता हो और जिसका यात्रा करना आपको अच्छा लगता हो आप उसका टिकट बुक करके अपने यात्रा का परबंद कर सकते हैं।

सड़क मार्ग द्वारा

यदि आप को बस से यात्रा करना अच्छा लगता है तो फिर यह आपके लिए बहुत ही अच्छा विकल्प हो सकता है जो की आप सफर को काफी आनंदायक बनता है। लखनऊ का सड़क मार्ग भारत के सभी शहरों के सड़कों से काफी अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। अगर आप दिल्ली, मुंबई, आगरा, जयपुर और कानपूर जैसे शहरों से हैं तो आपको लखनऊ के लिए बस आसानी से मिल जाएगी जो की डायरेक्ट आपको लखनऊ तक पहुंचा देता है।

इन सब के अलवा अगर आप किसी अन्य छोटे शहरों से हैं तो फिर आप पहले यहाँ के लिए टिकट बुक करा लें इसके बाद आप आगे की यात्रा को आप आसानी से पूरा कर सकते हैं।

हवाई मार्ग के द्वारा

अगर आपको हवाई यात्रा करना अच्छा लगता है तो फिर लखनऊ में के हवाई अड्डा में आपका स्वागत है और जो की भारत के सभी प्रमुख हवाई अड्डों से काफी अच्छी तरह से जुड़ी है। आप आपने शहर के नजदीकी हवाई अड्डों से यहाँ के लिए टिकट बुक कर सकते हैं। और फिर लखनऊ एयरपोर्ट से आगे की यात्रा को पूरा कर सकते हैं।

रेलवे मार्ग के द्वारा

लखनऊ का प्रमुख रेलवे स्टेशन चारबाग है , इसके आलवा यहाँ आपको गोमती नगर और आलम नगर का रेलवे स्टेशन भी देखने को मिलता है। जो की भारत के सभी प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है। यहाँ आप भारत के किसी भी छोटे बड़े शहरों से आसानी से पहुँच सकते हैं।

लखनऊ में ठहरने की जगह

यदि आप लखनऊ में घूमने के लिए आ रहे हैं और लखनऊ में रुकने की जगह के बारे में सोच रहे हैं तो फिर आपको ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है यह लेख आपके लिए काफी मददगार साबित हो सकता है।

यहाँ यत्रियों के ठहरने के लिए चारबाग रेलवे स्ट्रेशन काफी बेस्ट होता है। क्योंकि यहाँ आपको हर तरह का होटल मिल जायेगा , अगर आप बजट ट्रेवलर हैं तो यह आपके लिए और भी अच्छा है। जो भी आपको अच्छा लगे। आप अपने हिसाब से होटल को बुक कर सकते है।

और यदि आप इससे भी सस्ता रुकने की जगह तलाश रहे हैं तो फिर आप धर्मशाला में रुक सकते हैं। यहाँ चारबाग में ही एक धर्मशाला है , किसी भी स्थानीय व्यक्ति से पूछने पर वो आपको बता देगा की यह धर्मशाला सब्जी मंडी के गली में स्थित है।

लखनऊ का प्रसिद्ध भोजन

उत्तर प्रदेश का लखनऊ शहर सिर्फ अपने पर्यटन स्थल या दर्शनीय स्थल के लिए नहीं जाना जाता है यह अपने खान पान के लिए भी काफी प्रशिद्ध है। यहाँ आपको खाने के लिए तरह तरह के व्यंजन देखने को मिलते हैं।

यदि आप लखनऊ जाते हैं तो फिर यहाँ के टुंडा कवाब को चखना न भूलें , जो की आपको लखनऊ के अकबरी गेट में आसानी से देखने को मिल जाते हैं। यह बेहद स्वादिस्ट होता है क्योंकि इसे बनाने के लिए सो मसलों का इस्तेमाल किया जाता है।

गिलोटी कवाब में भी लखनऊ में काफी जादा प्रशिद्ध भोजन है। इसके अलावा आपको अल्लू टिक्की , दही बड़ा ,छोले भठूरे, बास्केट चाट और मखन मलाई भी आसानी से मिल जायेंगे।

कहा जाता है जब यहाँ के नवाब बूढ़े होने लगे तो उनके दांतों में अब वो ताकत नहीं रही जिसके कारण मांस के कठोर टुकड़ों को चबा सकते थे , तो उन्होंने शाही बावर्ची बनवाने का आदेश दिया जिसे मुँह में डालते ही गाल जाता है , जो की गिलोटि कवाब के नाम से मशहूर हुआ।

इसके आलावा और भी कुछ प्रशिद्ध भोजन यहाँ देखने को मिलते हैं जैसे की बोटी कवाब , चिकन शामी कवाब ,लखनवी बिरयानी।

यहाँ सुबह के नास्ते के रूप में आपको पाया निहारी देखने मिलता है जो की यहाँ काफी प्रशिद्ध है।

लखनऊ घूमने का खर्च

अगर आप अकेले 3 दिन और 2 रात लखनऊ के ट्रिप का प्लान करते हैं होटल का खर्च , खाने पीने का खर्च , बाइक के रेंट का खर्च और घूमने फिरने का खर्च इन सभी को मिला के 7000 से 7500 का खर्चा पड़ता है।

वही अगर आप दो या तीन लोग मिलकर यह प्लान करते हैं तो फिर यह खर्च आपका काम हो जायगा और प्रति व्यक्ति को 4000 या 4500 खर्च करना पड़ सकता है।

निष्कर्ष

लखनऊ को नवाबों का शहर कहा जाता है यहाँ आपको बहुत सारी घूमने के लिए काफी सारी ऐतिहासिक इमारते देखने को मिलती है। इस लेख में आपको लखनऊ में घूमने की जगह  (Lucknow me Ghumne ki Jagah) , जाने का सही समय , कहाँ जाएँ , कहाँ रुकें , क्या खाएं इस तरह की सारि जानकारी इस लेख में आसानी से मिल जाएगी।

यदि हमारा यह लेख आपको अच्छा लगे तो इसे अपने जरुरत मंद मित्रो के साथ शेयर करना बिलकुल भी न भूलें।

साथ ही यदि आपके पास हमारे लेख से सम्बंधित किसी भी तरह का सुझाव एवं सवाल है तो कमेंट सेक्शन में पूँछना न भूलें।

लखनऊ की सबसे मशहूर चीजें कोन से है ?

लखनऊ में घूमने की जगह में इमाम बड़ा , छोटा इमामबाड़ा , फन रिपब्लिक मॉल , साइंस सिटी जनेश्वर मिश्रा पार्क, आंबेडकर पार्क तथा खाने की चीजों में ग्लोटि कवाब, मटन करी, टुंडे कवाब, निहारी और बिरयानी काफी प्रशिद्ध है।

लखनऊ में घूमने कितने दिन चाहिए ?

लखनऊ में घूमने के लिए 2 से 3 दिन काफी होते हैं ?

लखनऊ में खरीददारी करने के क्यों प्रशिद्ध है ?

क्योंकि यहाँ आप देसी विदेशी आभूषण, और भी बहुत सारी वस्तुएँ ,खिलोने , सूखे मेवे, ताजे फल, बैग कपडे आभूषण आसानी से मिल जाती है। और यहाँ आपको लगभग सारी चीजें छोटे से बड़े सभी चीजें आसानी से अच्छी क़्वालिटी की मिल जाती हैं।

आपको लखनऊ क्यों जाना चाहिए ?

यहाँ आपको पुराने और नई शहर का मिश्रण देखने को मिलता है ?

लखनऊ का सबसे बड़ा बाजार कौन सा है ?

लखनऊ का सबसे बड़ा बाजार अमीना बाजार है , जो की सबसे पुराना शॉपिंग हब और ज्यादा व्यस्त है।

Leave a comment