15+ मसूरी में घूमने की जगह, घूमने का खर्च और जाने का सही समय

अगर आप घूमने फिरने के शौकीन हैं तो मसूरी में घूमने की जगहों में उत्तराखंड में स्थित यह मसूरी हिल स्टेशन काफी ज्यादा पसंद आने वाला है। यह अपने ऊँचे ऊँचे पहाड़ों , प्राकृतिक नजारों , खूबसूरत झीलों के कारन काफी ज्यादा प्रशिद्ध है।

ठंडे स्थान की तलाश करने वाले पर्यटकों के लिए यह काफी खूबसूरत हिल स्टेशन है। यहाँ हर साल आप लाखों की संख्या में पर्यटकों को देख सकते हैं। इस खूबसूरत सी वादियों में जो कोई भी यहाँ घूमने के लिए आते हैं यहाँ एक बार आने के बाद दीदार हो जाते हैं। अगर आपके मन में भी मसूरी घूमने का प्लान चल रहा है तो आप बिलकुल भी सही जगह पर हैं।

मसूरी में घूमने की जगह , जाने का समय एवं खर्चा

मेरे इस लेख में आपको मसूरी में घूमने की जगहों , जाने का सही समय , कैसे जाएँ , कहाँ घूमें इन सारी चीजों की जानकारी आपको काफी सरल शब्दों में काफी आसानी से मिलने वाली है। बस आपको शुरू से अंत तक इस लेख में बने रहने की जरूरत है।

मसूरी के बारे में रोचक तथ्य

  • मसूरी पांचवा ऐसा हिल स्टेशन हैं जिसे की भारतियों के द्वारा सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है। कहा जाता है सचिन तेंदुलकर का भी यह फेवरेट हॉलिडे डेस्टिनेशन है।
  • कहा जाता है 1980 के दशक में दो युवा लड़कों के द्वारा सी मसूरी हिल स्टेशन की खोज की गयी थी।
  • जब एक बार सचिन तेंदुलकर ने यहाँ घर बनवाने की कोशिस की थी तो यहाँ के रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन के नियमों को तोड़ने की वजह से साफ मन कर दिया गया था।
  • इस जगह को मसूरी का नामकरण ब्रिटिश मिलिट्री के अधिकारी के द्वारा किया गया था। जब 18 वीं शताब्दी में ब्रिटिश मिलिट्री छुट्टी बिताने के लिए अच्छी जगह की तलाश में थे तो उस वक्त उसे यह जगह मिला था , जो की उसे बहुत ही ज्यादा पसंद आया। यहाँ पर उन्होंने ज्यादा मात्रा में मसूर की झाड़ियों को देखकर इस जगह का मसूरी नाम दे दिया।
  • मसूरी में आपको एक म्युसियम भी देखने को मिलता है , जो की वेक्स म्युसियम के नाम से जाना जाता है। यहाँ आपको बड़े बड़े सितारों के मोम के पुतले देखने को मिलेंगे जैसे – अमिताभ बच्चन , गाँधी जी माइकल जैक्सन।
  • इस जगह को नेहरू परिवार के द्वारा काफी ज्यादा पसंद किया जाता था। यहाँ आपको विजय लक्ष्मी का भी घर देखने को मिलता है जो की नेहरू परिवार की ही सदस्य है।

मसूरी में घूमने की जगह (Mussoorie me Ghumne ki Jagah)

इस लेख में आपको मसूर में घूमने वाले स्थानों की जानकरी काफी आसान शब्दों में मिलने वाली है।

लण्ढोर

अगर आप आप प्रकृति के अध्भुत नजारों को देखने के शौकीन हैं तो आपको मसूरी में घूमने वाले स्थान लंढोर में जरूर घूमने आना चाहिए। उत्तराखंड में पश्चिमी हिमालय की तलहटी पर बसा हुआ यह खूबसूरत सा शहर काफी लुभावन है। एवं यहां आने वाले पर्यटकों को खूब भाता है।

लण्ढोर
लण्ढोर

यह मसूरी के खूबसूरत से दर्शनीय स्थलों के लिए भी काफी प्रशिद्ध है।

यहाँ के खूबसूरती का भरपूर आनंद लेने के लिए अपने साथ दूरबीन एवं कैमरे को लाने का मौका कभी भी न छोड़े , दूरबीन की सहायता से आप दूर दूर तक के खूबसूरत नजारों देख सकते हैं। एवं कैमरे की मदद से उन खूबसूरत तस्वीरों को फोटो के रूप में खींच कर अपने यात्रा को यादगार बना सकते हैं।

दलाई हिल्स

दलाई हिल्स पिकनिक मानाने वाले पर्यटकों के द्वारा काफी ज्यादा पसंद किया जाता है। अगर आप शांत एवं खूबसूरत जगहों की तलाश में हैं तो दलाई हिल्स आपको काफी ज्यादा पसंद आने वाला है। यहाँ से आप गढ़वाल पर्वतमाला की खूबसूरती को भी भरपूर निहार सकते हैं।

दलाई हिल्स
दलाई हिल्स

दलाई हिल्स में आपको एक बौद्ध मंदिर भी देखने को मिलेगा , साथ ही यहाँ आप तिब्बती झंडा एवं भगवान बुध की मूर्ति भी देख सकते हैं।

यहाँ आप पर्यटकों के भरी भीड़ को भी देख सकते हैं , जो यहाँ के खूबसूरत सूर्यास्त का दृश्य अपने कैमरे में कैद करके अपने सफर को यादगार बनाने के लिए आते हैं। आप भी इस क्षण का भरपपुर माजा ले सकते हैं। यहाँ आपको खाने पीने के लिए किसी भी प्रकार की चिंता करने की जरूरत नहीं है। क्योंकि यहाँ पास में आपको खाने पीने की काफी साडी स्टॉल मिल जाएगी।

केम्पटी फॉल्स

केम्पटी फॉल्स मसूरी में घूमने वाले स्थानों में काफी खूबसूरत सा जल प्रपात है। यह फॉल्स आपको देहरादून एवं मसूरी की सड़कों में देखने को मिल जाते हैं। केम्पटी फॉल्स का यह झरना समुद्र से 45 फ़ीट की ऊंचाई पर स्थित है एवं यह झरना 40 फ़ीट ऊँची है।

केम्पटी फॉल्स
केम्पटी फॉल्स

यह झरना भी पिकनिक स्पॉट के रूप में काफी ज्यादा प्रशिद्ध है। यहाँ आपको रोजाना पर्यटकों का भरी भीड़ देखने को मिलेगा। आप अकेले हों या परिवार वालों के साथ हों यह आपके मनोरंजन के लिए काफी खूबसूरत सा जगह है।

क्राइस्ट चर्च

यहाँ क्राइस्ट चर्च हिमालय पर्वतमाला की सबसे पुरानी चर्च के रूप में प्रशिद्ध है। यह आपको लाइब्रेरी बस स्टैंड से 0.6 किलोमीटर की दुरी में देखने को मिलती है इस चर्च को ब्रिटिशों के द्वारा 1836 में बनवाया गया था।

क्राइस्ट चर्च
क्राइस्ट चर्च

इस चर्च को गोथिक शैली की शानदार वास्तुकला के प्रयोग करके बनाया गया था। यहाँ चर्च के अंदर दीवारों में आपको काफी खूबसूरत चित्रकारी देखने को मिल जायेगा , जो आपके जैसे ही पर्यटकों को खूब पसंद आता है।

मसूरी लेक

मसूरी में घूमने लायक स्थानों में यह मसूरी झील एक कृत्रिम झील है। इस झील के चारों तरफ प्रकृति नज़ारे देखने मिलते हैं। अगर आप प्रकृति प्रेमी हैं और प्रकृति के आँगन में खेलना एवं शकुन के कुछ पल बिताने के शौकीन हैं तो आपको यहाँ आने का मौका बिलकुल भी नहीं छोड़ना चाहिए।

मसूरी लेक
मसूरी लेक

यहाँ पर्यटकों के लिए शानदार वाटर स्पोर्ट की भी सुविधा उपलब्ध है। आप इन वाटर में की जाने वाली गतिविधियों का भरपूर माजा ले सकते हैं। यहाँ पर्यटकों के लिए बोटिंग के आलावा जिपलाइनिंग और जोरबिंग की भी भरपूर व्यवस्था है।

मसूरी माल रोड

मसूरी में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में यह माल रोड का काफी अच्छा हैंगऑउट प्लेस है। जहाँ आप अपने मित्रों परिवार एवं अपने पार्टनर के साथ कुछ देर के बैठकी कर सकते हैं। मसूरी में यह एक तरह का अंग्रेजी ज़माने की निशानी है। यहाँ के स्थानीय लोंगो के लिए यह काफी अच्छा गॉसिप करने की जगह है।

मसूरी माल रोड
मसूरी माल रोड

बेनोग वाइल्डलाइफ सेंचुरी

यदि आप पशु पक्षी प्रेमी हैं और वन्य जीवों को देखने के शौकीन हैं तो फिर आपको मसूरी में घूमने वाले पर्यटन स्थलों के इस बेनोग वाइल्डलाइफ सैंक्चुअरी में जरूर आना चाहिए। इस अभ्यारण में आपको काफी सरे लुफ्त प्राय पशु पक्षी एवं जानवर देखने को मिल जायेंगे।

बेनोग वाइल्डलाइफ सेंचुरी
बेनोग वाइल्डलाइफ सेंचुरी

यहाँ आप विभिन्न प्रजाति के जानवर पशु पक्षी एवं जानवरों को देख सकते हैं जैसे की – पहाड़ी बटेरी। इस अभ्यरण के चारों तरफ आपको सिर्फ चीड़ के पेड़ ही देखने को मिलते हैं।

यहाँ से आप हिमालय की चोटियों की ढलान आप साफ देख सकते हैं। यहाँ से आपको बंदरपंच और चौखंबा की शानदार चोटियों की का भी अध्भुत नजारा आपको देखने को मिलता है।

जॉर्ज एवरेस्ट हाउस

मसूरी का प्रमुख जगह लाइब्रेरी बस स्टैंड है। और इस एवरेस्ट हाउस को लाइब्रेरी बस स्टेण्ड से आप 6 किलोमीटर की दुरी में देख सकते हैं। यह घर कभी जार्ज एवरेस्ट का हुआ करता था और इसका निर्माण 1832 में हुआ था। यह एक प्रकार की विरासती बिल्डिंग है।

जॉर्ज एवरेस्ट हाउस
जॉर्ज एवरेस्ट हाउस

यह बिल्डिंग पार्क स्टेट के नाम से प्रशिद्ध है। यह क्लाउड्स एंड्स की तरफ जाने वाले सड़क के समीप ही एक चट्टान पर बना हुआ है।

यहाँ से आप दून घाटी , अलगार नदी बर्फ से ढकी घाटियाँ हिमालय की पर्वतमाला का मनोरम दृश्य सभी कुछ आप एक साथ ही देख सकते हैं।

मसूरी एडवेंचर पार्क

अगर रोमांचक गतिविधियों एवं रोमांचकारी खेलों को देखना एवं खेलना अच्छा लगता है। तो मसूरी में घूमने के इस शानदार पर्यटन स्थल को भर्मण करने का मौका कभी भी न छोड़े। इसके आसपास आपको काफी खूबसूरत नजारे देखने को मिलते हैं। इतने शानदार कुदरती नज़ारे के साथ साथ एडवेंचर पार्क होने के कारण यहाँ आपको पर्यटकों का सबसे ज्यादा भीड़ देखने को मिलता है।

मसूरी एडवेंचर पार्क
मसूरी एडवेंचर पार्क

2003 में पूरी तरह से बनकर तैयार हुए इस पार्क का क्षेत्रफल एक एकड़ का है। इसे बनवाने के लिए बेस्ट एडवेंचर कंपनी ने रियल एडवेंचर स्पोर्ट्स ने ठिका लिया था एवं बनवाकर तैयार करवाया था।

यहाँ आप कई तरह की रोमांचक गतिविधियों की मजा एक्सपर्ट की देखरेख में कर सकते हैं। उनमे से कुछ के नाम इस प्रकार से हैं – पैरेलल रोप और रैपलिंग , रॉक क्लाइम्बिंग , ट्रैकिंग जिप लाइन। आपके जिसे रोमांचकारी गतिविधियों के शौक रखने वाले पर्यटकों के लिए यह जगह किसी स्वर्ग से कम नहीं है।

मसूरी का लाल टिब्बा

यह लाल टिब्बा मसूरी लाइब्रेरी से मात्र 5.5 किलोमीटर की दुरी में देखने को मिल जाता है। यह लंढौर क्षेत्र का सबसे ऊँचा स्थान है। समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 2,275 मीटर है। यहाँ से आप हिमालय के अध्भुत नज़रों को आप अपनी खुली आँखों से देख सकते हैं , इसी कारण यहाँ आने वाले पर्यटकों के लिए यह काफी चर्चिति एवं लोकप्रिय जगह है। यहाँ आपको टेलिस्कोप भी मिल जायेगा , जिसकी सहायता से आप केदारनाथ , बद्रीनाथ , बंदरपंच जैसे खूबसूरत चोटियों को भी करीब से देखने का सौभाग्य प्राप्त करते हैं। यहाँ पर पर्यटकों के रुकने एवं खाने के लिए एक छोटे से केफेटेरिया की भी व्यवस्था की गयी है।

मसूरी का लाल टिब्बा
मसूरी का लाल टिब्बा

यहाँ आप पहाड़ो के खूबसूरत नज़रों को देखने के साथ साथ यहाँ आप आराम भी कर सकते हैं। यहाँ आप ट्रेकिंग का भी भरपूर मजा ले सकते हैं। यहाँ आने वाले पर्यटकों के लिए यह आरामगाह के रूप में भी प्रशिद्ध है। यहाँ आप ब्रिटिश द्वारा बनाये गए पुराने घर भी देख सकते हैं। आज के समय में इसका इस्तेमाल दूरदर्शन के प्रसारण स्टेशनों एवं टावरों में किया जाता है।

देवलसारी

मसूरी से 55 किलोमीटर की दुरी में स्थित टिहरी गढ़वाल के अलगर घाटी में बसा यह देवलसारी मसूरी में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में काफी खास जगह है। अगर आप प्रकृति प्रेमी हैं एवं कुदरती नजरों को देखना आपको अच्छा लगता है तो आपके लिए यह जगह किसी स्वर्ग से कम नहीं होने वाला है। यहाँ आपको चारों तरफ घास के मैदान एवं खूबसूरत पहाड़ों के चट्टान देखने को मिलते हैं।

देवलसारी
देवलसारी

यहाँ आपको 70 से भी ज्यादा रंग बिरंगी तितिलियों की प्रजातियां देख सकते हैं एवं साथ ही पंक्षियों की भी 60 से अधिक प्रजातियों को देख सकते हैं। कहने का मतलब यहाँ आप इन रंग बिरंगी तितलियों एवं पंक्षियों के बीच प्रकृति के इन हसीन वादियों में आप घूमने एवं ट्रेकिंग का शोक भी पूरा कर सकते हैं। जो आपके यात्रा को काफी शानदार एवं यादगार बना देता है।

कंपनी बाग

कंपनी बाग मसूरी में घूमने वाले स्थानों में यह काफी प्रशिद्ध पर्यटन स्थल है। यह गार्डन आपको मॉल रोड से मात्र 3 किलोमीटर की दुरी में देखने को मिलता है। यह सहस्त्र धारा के नाम से प्रशिद्ध है। अगर आप अकेले या परिवार वालों के साथ घूमने के लिए आ रहे हैं तो आपके लिए एक बहुत ही पिकनिक स्पॉट भी हो सकता है यहाँ आप हरे भरे हरियाली के बीच रंगीन उद्यान और सूंदर फूलों के बीच कुछ शकुन भरे पल का अनुभव कर सकते हैं। यहाँ बच्चों के खेलने के लिए भी काफी अच्छी व्यवस्था है , यहाँ आपको एक छोटे से मानव निर्मित झील भी देखने को मिलते हैं।

मसूरी का कंपनी बाग
मसूरी का कंपनी बाग

इस गार्डन का नाम कम्पनी गार्डन ईस्ट इंडिया कम्पनी के नाम से ही लिया गया है। यहाँ पर्यटकों के लिए काफी कुछ की भी व्यवस्था की गयी है। इस जगह का इस्तेमाल शादियों के समय भी किया जाता है

झरीपानी फॉल्स

एडवेंचर स्पोर्ट्स का शौक रखने वाले पर्यटकों के लिए यह काफी शानदार जगह है। अगर आप मसूरी घूमने के लिए जा रहे हैं और इस जगह को घूमें बिना ही वापस आ रहे हैं तो आपकी मसूरी की यात्रा अधूरी ही मानी जाती है।

झरीपानी फॉल्स
झरीपानी फॉल्स

यहाँ आप शिवालिक पर्वत श्रेणी के शानदार दृश्यों को भी देख सकते हैं तथा अपने साथ इनके शानदार तस्वीरों को भी कैद करके अपने साथ ले जा सकते हैं। जो आपकी यात्रा को काफी हद तक यादगार बना देगा।

कैमल्स बैक रोड

केमल्स बैक रोड मसूरी के एक सड़क का नाम है और इस सड़क का नाम इसके विशेष आकर के कारण पड़ा है। जो की दूर से देखने में बिलकुल ऊंट के कूबड़ की तरह दिखाई देता है। यहाँ आने वाले पर्यटक इस जगह में आना कभी भी नहीं भूलते हैं क्योंकि यहाँ से आप प्रकृति की हसींन वादियों को अपनी खुली आँखों से देख सकते हैं।

कैमल्स बैक रोड
कैमल्स बैक रोड

इस सड़क की लम्बाई तीन किलोमीटर है जहाँ भर्मण के समय आप प्रकृति के हसीन वादियों के भरपूर मजा ले सकते हैं। सुबह एवं शाम के समय में यहाँ आप पर्यटकों की काफी भीड़ देखने को मिलेगा।

गन हिल

अगर आप गन हिल घूमने के लिए आ रहे हैं तो यहाँ आपको गन हिल के शानदार रोपवे का मजा लेना को मिलेगा। इस दौरान रोपवे में सवारी करते हुए हिमालय की शानदार नजारों का आनंद आप अपनी खुली आँखों से ले सकते हैं।

गन हिल
गन हिल

गन हिल एक्स्टिंक्ट वोल्केनो के नाम से भी जाना जाता है। जमीन से इसकी ऊंचाई करीब 2024 मीटर है। इस जगह से आपको पुरे मसूरी का 360 डिग्री का नजारा देखने मिलता है।

हाथीपांव

मसूरी में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में हाथीपांव काफी शांति वाली जगह है। अगर आप शांति प्रिय जगहों के शौकीन हैं तो आपको यह हाथीपांव काफी ज्यादा पसंद आने वाला है। यह एक शांत सा गांव है जो की पहाड़ी शिखर पर स्थित है एवं चारों तरफ से घने जंगलों से घिरा हुआ है। प्रकृति प्रेमियों के लिए एवं एडवेंचर के शौकीन लोंगो के लिए यह काफी पसंदीदा जगह है। साथ ही यहाँ आप हिमालय के अध्भुत दृश्यों के नजरों को भी करीब से देखने का मौका मिलता है।

हाथीपांव
हाथीपांव

ज्वाला देवी मंदिर

अगर आप पूजा पाठ में यकीन रखते हैं एवं धार्मिक प्रवृति के इंसान हैं तो उसकी भी व्यवस्था यहाँ मसूरी में घूमने वाले जगहों में मिल जाएगी। मसूरी में घूमते समय यहाँ ज्वाला देवी मंदिर में घूमने का मौका कभी भी न छोड़े। यह का माँ दुर्गा का मंदिर है , यह मंदिर जमीन के तल से बनोग हिल पर 2104 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। इस मंदर तक पहुँचने के लिए पर्यटकों को 2 किलोमीटर की चढाई करनी होती है।

ज्वाला देवी मंदिर
ज्वाला देवी मंदिर

अगर आपको माँ दुर्गा मेंआस्था एवं विश्वास है तो मसूरी में अन्य जगहों का भर्मण करते समय इस मंदिर में भी जरूर आयें कहा जाता है अगर आप किसी भी तरह की मन्नते लेकर यदि आप इस मंदिर में आते हैं आपकी हर मन्नते पूरी हो जाती है।

इस मंदिर में आप माता रानी के दर्शन के अलावे आप आसपास के अद्धभुत खूबसूरत वादियों के दर्शन कर सकते हैं , आपको यहाँ के नजदीकी शिवालिक पहाड़ियों एवं यमुना नदी के किनारे के शानदार नज़रों को देखने के लिए जरूर आना चाहिए

चार दुकान

चार दुकान मसूरी में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में एक प्रकार का हैंगऑउट प्लस है। यहाँ आने वाले पर्यटकों के द्वारा यह काफी ज्यादा पसंद किया जाता है। मसूरी में प्राकृतक वादियों के बीच यह शानदार रेस्टोरेंट है। जहा आप अपनी थकान मिटाने के लिए , यहाँ के स्वादिस्ट व्यंजन का भी भरपूर मजा ले सकते हैं।

चार दुकान
चार दुकान

मसूरी में करने के लिए कुछ खास चीजे

मसूरी में घूमने फिरने के साथ ही यहाँ पर पर्यटकों के बीच करने के लिए बहुत कुछ है जैसे की आप यहाँ पर वाइन को बनाते हुए देख सकते हैं और अगर आप वाइन के शौकीन है तो इसका स्वाद भी चख सकते हैं। यहाँ पर्यटकों के लिए ट्रैकिंग के लिए भी शानदार व्यवस्था है। अगर आपको मछली पकड़ना अच्छा लगता है तो इसकी भी व्यवस्था आपको यहाँ देखने को मिलती है। यहाँ के प्रशिद्ध झीलों में आप नौकायन का भी शौक पूरा कर सकते हैं

मसूरी के प्रसिद्ध भोजन

फानू

फानु कभी गढ़वाल का प्रशिद्ध भोजन हुआ करता था। लेकिन आज के समय में इसे आप मसूरी में भी देख सकते हैं। यहाँ आने वाले पर्यटकों के बीच यह काफी प्रशिद्ध है।

इसे मुंग एवं अरहर की दाल की सहायता से बनाया जाता है। यह काफी स्वादिस्ट एवं पौष्टिक होता है। इसे चावल के साथ परोसने पर इसका स्वाद और भी कई गुना बढ़ जाता है।

आलू के गुटके

वैसे तो आपने आलू के कई सारे व्यंजनों का भी इस्तेमाल किया होगा , फिर भी मसूरी में मिलने वाले आलू के गुटके की बात ही कुछ और है। यह काफी टेस्टी होता है एवं स्थानीय लोंगो के बीच काफी प्रशिद्ध स्नेक है।

इसे बनाने में काफी कम मशालों का इस्तेमाल किया जाता है। इसे कस्टमर के बीच दाल चावल एवं भांग की चटनी के साथ परोसा जाता है।

कितने दिनों के लिए मसूरी घूमने का प्लान बनाएं?

वैसे तो यह आप पर जाता है की आप मसूरी में कितने दिनों तक रहना चाहते हैं। फिर भी यदि बजट ट्रेवलिंग की बात करें तो आपको कम से कम मसूरी में 3 से 4 दिनों तक रुकना होता है। इस दौरान आप मसूरी में घूमने वाले सारे पर्यटन स्थलों को देख सकते हैं।

मसूरी घूमने का सही समय

वैसे तो आप यहाँ सालों भर में कभी भी घूमने के लिए आ जा सकते हैं लेकिन यहाँ आने के लिए गर्मियों का समय ही सबसे बेस्ट माना जाता है। क्योंकि मसूरी एक हिल स्टेशन है और काफी ठंडी जगह है। इसलिए गर्मियों के समय में यह पर्यटकों के लिए खास बन जाता है।

अगर आप गर्मियों के मौसम में यहाँ घूमने के लिए जा रहे हैं तो आपको कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना होता है। इस समय पर्यटकों के ज्यादे भीड़ भाड़ होने की वजह से यहाँ हर चीज की कीमतों में भरी वृद्धि हो जाती है। जैसे होटल का भी कीमत बढ़ जाता है। खाने पीने की चीजों के दामों में भी काफी ज्यादा इजाफा होती है।

अगर आपको बजट से सम्बंधित समस्या करना पड़ रहा है तो आप मसूरी में घूमने वाले स्थानों के भर्मण के लिए गर्मियों के अलावा किसी दूसरे महीने में घूमने का प्लान कर सकते हैं।

जैसे की आप अक्टूबर से नवंबर के बीच घूमने का प्लान कर सकते हैं क्योंकि यह यहाँ पर घूमने फिरने के लिए पर्यटकों के बीच ऑफ़ सीजन होता है। इस समय यहाँ पर्यटकों की काफी कम भीड़ होने के कारण यहाँ आपको सारी चीजों की दामों में कमी देखने को मिलती है जैसे की होटल भी आपको काफी कम दामों में मिल जाती है एवं खाने पीने की चीजे भी काफी कम कीमतों में मिल जाती है।

मसूरी कैसे जाएं?

अगर आप मसूरी जाने के बारे में सोच रहे हैं तो आप मसूरी किसी भी माध्यम से जा सकते हैं सड़क , रेलवे एवं हवाई।

रेलवे के द्वारा

अगर आपको रेलवे का सफर करना अच्छा लगता है तो आपकी जानकारी के लिए बता दें की यहाँ उत्तराखंड में 2 रेलवे स्टेशन है देहरदून रेलवे स्टेशन एवं मसूरी रेलवे स्टेशन। आप अपने शहर से किसी भी रेलवे स्टेशन के लिए टिकट बुक करा सकते हैं जो आपके लिए ज्यादा सुविधाजनक हो। रेलवे स्टेशन से मसूरी की दुरी मात्र 28 किलोमीटर की है।

सड़क मार्ग के द्वारा

यदि आप सड़क मार्ग के द्वारा यात्रा करना अच्छा लगता है तो इसकी भी व्यवस्था आपको यहाँ देखने को मिल जाती है। चूँकि मसूरी काफी प्रशिद्ध हिल स्टेशन है। इसलिए देहरादून का सड़क मार्ग पुरे भारत के बड़े बड़े शहरों से काफी अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। आप चाहे तो बस के द्वारा भी जा सकते हैं या फिर अपने निजी वाहनों से भी देहरादून पहुँच सकते हैं।

हवाई मार्ग के द्वारा

यदि आपका बजट अच्छा खासा है और आप कम समय में देहरादून जाना चाहते हैं। तो आपके लिए हवाई यात्रा सबसे अच्छा विक्लप है। आप अपने नजदीकी शहरों से देरादून के लिए हवाई टिकट बुक करा सकते हैं।

देहरादून का प्रशिद्ध एयरपोर्ट जाली ग्रांट एयरपोर्ट है जो की मसूरी में मात्र 50 किलोमीटर की दुरी में स्थित है।

मसूरी के अंदर कैसे घूमे

मसूरी में घूमने के लिए आप 2 तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। पहला जिसमे आपको ऑटो या टैक्सी भाड़े में लेना होता है। दूसरे तरीके में आप स्कूटी या बाइक को रेंट पर ले सकते हैं। पूरी मसूरी के मनचाहे घूमने वाले पर्यटन का भर्मण कर सकते हैं। स्कूटी या बाइक की रेंट आपको रोजाना 800 से 900 के बीच पड़ेगी।

मसूरी में ठहरने की जगह

अगर आप मसूरी में रुकने की जगह के तलाश में हैं तो आपको माल रॉड एवं गाँधी चौक में अवश्य जाना चाहिए। यहाँ आपको काफी अच्छे अच्छे दामों में होटल मिल जाते हैं। आप अपने बजट के हिसाब से होटल को चुन सकते हैं कहने का मतलब आपको सस्ता एवं महंगा हर तरह का होटल मिल जायेगा। यहाँ आप न्यूनतम किराये 600 रूपये में ठहरने का व्यवस्था मिल जायेगा। खाने पीने की भी अच्छी व्यवस्था आपको यहाँ पर मिल जाती है।

गर्मियों के मौसम में यह अपने पीक सीजन में होता है इसलिए यहाँ इस समय होटल की कीमतें काफी ज्यादा बढ़ जाती है। इस समय ज्यादा भीड़ भाड़ होने के कारण यहाँ आपको हर चीज की कीमतों में भरी वृद्धि देखने को मिलती है।

मसूरी घूमने का खर्च

वैसे तो मसूरी में घूमने का खर्चा आपके शौक पर जाता है की आप कैसे घूमना पसंद करते हैं। आप मसूरी घूमते समय किस तरह के यातायात का इस्तेमाल करते हैं। आप कितनी दुरी का सफर करके मसूरी पहुँच रहे हैं।

कुल मिलकर 10000 से 15000 के खर्चे में आप आसानी से पुरे मसूरी को घूम सकते हैं। फिर भी आपका बजट इसके अलावा कम या ज्यादा भी हो सकता है।

FAQ

मसूरी घूमने के कितना पैसा चाहिए ?

अगर आप अकेले ही मसूरी घूमने के लिए जा रहे हैं तो 3 दिनों में 10 से 15 हजार खर्चा करके पुरे मसूरी को बड़े ही आराम से घूम सकते हैं।

मसूरी घूमने का सबसे अच्छा समय कौन सा है ?

मसूरी घूमने का सबसे अच्छा समय गर्मियों का समय होता है।

मसूरी में सबसे ज्यादा फेमस चीज क्या है ?

मसूरी में सबसे ज्यादा घूमने वाला कैंपटी फॉल झरना है।

मसूरी में आपको कैसे कपडे पहना चाहिए ?

मसूरी में आपको काफी गर्म कपडे लेकर जाना चाहिए।

मसूरी में कैसे घूमें ?

मसूरी घूमने के लिए आप बाइक या स्कूटी रेंट पर ले सकते हैं। अगर आपको पैदल चलना अच्छा लगता है तो पैदल ही इसके सैर पर आप निकल सकते हैं। या फिर गन हिल्स छोटी पर लगे रोपवे का इस्तेमाल कर सकते हैं।

निष्कर्ष

मेरे इस लेख में आपको मसूरी में घूमने की जगहों के बारे में सारी जानकारी काफी सरल शब्दों में मिलने वाली है। जैसे की मसूरी में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह कौन कौन सी है , मसूरी में घूमने के लिए कब जाना चाहिए , मसूरी में कैसे घूमे , मसूरी में घूमने के लिए किन बातों का विशेष ध्यान रखें , मसूरी तक पहुँचने के लिए किस तरह के यातायात का इस्तेमाल करें।

आशा करते हैं की मेरा यह लेख आपकी मसूरी की यात्रा को काफी आसान बना देगा , अतः इसे अपने मित्र मण्डली में सोशल मिडिया के द्वारा शेयर करना बिलकुल भी न भूलें।

साथ ही यदि मेरे इस लेख से सम्बंधित किसी भी प्रकार का कोई भी समस्या एवं सुझाव आपके दिमाग में चल रहा है तो इसे अपने कमेंट सेक्शन में पूछना कभी भी न भूलें।

Leave a comment