15+ शिमला में घूमने की जगह, घूमने का सही समय और खर्चा

 Shimla Me Ghumne ki Jagah : इस लेख में आपको शिमला में घूमने की जगह जाने का सही समय एवं खर्चा , अपने सफर को किस तरह से मजेदार बनायें। इन सारी चीजों की आपको इस लेख में काफी मनोरंजक ढंग से मिल जायेगा।

उत्तर प्रदेश में स्थित हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला जो की गर्मियों के समय में पर्यटकों के लिए किसी जन्नत से कम नहीं होता है। अगर आप गर्मियों के मौसम में आप अपने घरों में बैठे बैठे परेशान हो रहे हैं और आप कही पर घूमने की सोच रहे हैं तो इसके लिए हम आपको उत्तराखंड के शिमला के बारे में सुझाव देते हैं।

शिमला में घूमने की जगह , समय एवं खर्चा

शिमला में घूमने के दौरान आप यहाँ पर स्थित टॉय ट्रेन एवं यहाँ पर होने वाले बर्फ़बारी का भरपूर मजा ले सकते हैं। यह टॉय ट्रेन 2200 मीटर की ऊंचाई में स्थित है एवं यहाँ पर आप सालों भर पर्यटकों का भीड़ देख सकते हैं।

शिमला के बारे में रोचक तथ्य

  • शिमला का नाम यहाँ की प्रशिद्ध देवी श्यामला के नाम पर पड़ा है।
  • शिमला मिर्च का उत्पादन ब्रिटिशों के द्वारा शिमला से ही शुरू किया गया था। यहाँ इसका अत्यधिक उत्पादन होने के कारण शिमला मिर्च के नाम से जाना जाता है।
  • भारत का इकलौता प्राकृतिक आइस स्केटिंग आपको सिर्फ और सिर्फ इसी शहर में देखने को मिलता है।
  • कालका शिमला का रेलवे स्टेशन विश्व धरोहर स्थल के रूप में शामिल किया गया है।
  • यह शहर भारत के सबसे युवा शहर के रूप में प्रशिद्ध है।
  • प्राचीन समय में यह कभी पंजाब की राजधानी हुआ करती थी। लेकिन हिमाचल प्रदेश के बनने के बाद शिमला को इसकी राजधानी बनाया गया।
  • यहाँ आपको उत्तरी भारत का सबसे पुराण डाकघर देखने को मिलता है , जो की जनरल पोस्ट ऑफिस के नाम से प्रशिद्ध है एवं इसकी स्थापना 1882 हुई थी।

शिमला में घूमने की जगह (Shimla Me Ghumne ki Jagah)

अर्की किला

अगर आपको ऐतिहासिक किला घूमना का शोक तो शिमला में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में अर्की आने का मौका कभी भी न छोड़े। इसका निर्माण 1660 ईस्वी में करवाया गया था शिमला में स्थित यह काफी शानदार ऐतिहासिक स्थल है।

अर्की किला

यहाँ आप इस ईमारत में राजपूत एवं मुगल वास्तुकला में दोनों की ही खूबसूरत कारीगरी देख सकते हैं। साथ ही यहाँ आप आपको काफी खूबसूरत पेंटिंग्स भी देखने को मिलती है। शायद आप इस तरह के खूबसूरत पेंटिंग्स एवं इतनी पुराणी पेंटिंग्स आप पहले कभी न देखे हों। जो सचमुच आपको अचंभित कर देगा।

कुल्लू

अगर आप खुले वातावरण एवं खुले आसमान के नीचे घूमने के शौकीन हैं तो आपको शिमला में घूमने के स्थानों में कुल्लू अवश्य जाना चाहिए। यह पर्यटन स्थल शिमला में 1230 मीटर की ऊंचाई में स्थित है। शिमला में घूमने वाले इस पर्यटन स्थल की सबसे बड़ी विशेषता यह है। यहाँ आपको एक से एक देवदार के पेड़ देखने को मिलते हैं एवं उसके बीच में आप राजसी पहाड़ियों की खुली घाटी देखने को मिलती है।

कुल्लू
कुल्लू

कुल्लू घाटी को देवताओं की घाटी के नाम से भी जाना जाता है। कुल्लू घाटी को आप विज नदी के किनारे देख सकते हैं। जगह को पहले के समय में कुलंतपीठ के नाम से जाना जाता था। इसका सीधा से मतलब होता है की रहने वाली दुनियाँ।

यहाँ आपको अद्भुत प्राकृतक वातावरण के साथ रघुनाथ मंदिर एवं जग्गनाथ मंदिर भी देखने को मिलती है। यहाँ दशहरा का पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। यूँ तो आप यहाँ पर सालों भर पर्यटकों का भीड़ देख सकते हैं लेकिन गर्मियों के समय में इस यहाँ आने वाले पर्यटकों के द्वारा काफी ज्यादा पसंद किया जाता है।

नालदेहरा

अगर आप नालदोहरा में घूमने के बारे में सोच रहे हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दें। शिमला में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में यह नालदेहरा हिल स्टेशन अपने सूर्योदय एवं सूर्यास्त के शानदार व्यू के लिए जाना जाता है। जो आपके ट्रिप को सचमुच शानदार एवं यादगार बना देता है। अगर आप यहाँ घूमने के लिए आ रहे हैं तो आपको यहाँ अपने साथ कैमरा एवं वीडियो कैमरा जैसे उपकरण जरूर लाना चाहिए। जिसके मदद से आप यहाँ के पिक्चर को अपने कैमरे में कैद करके रख सकते हैं।

नालदेहरा
नालदेहरा

यहाँ पर्यटकों के लिए घुड़सवारी की भी काफी अच्छी व्यवस्था उपलब्ध है। अगर आप घुड़सवारी के शौकीन है तो आपके लिए यह और भी खुशी की बात है।

अगर आप शांत एवं शकुन के कुछ पल बिताना चाहते हैं तो आपको अवश्य यहाँ आना चाहिए। शहर से दूर यह इलाक़ इतना शांत है की कहा जाता है यहाँ आप बहने वाले हवाओं को भी सुन सकते हैं।

शिमला राज्य संग्रहालय

अगर आप इतिहास प्रेमी है एवं आपको ऐतिहासकि इमारतों को घूमना अच्छा लगता है। तो शिमला में घूमने वाले पर्यटन स्थलों शिमला राज्य संग्रहालय में आपको अवश्य जाना चाहिए।

इस संग्रहालय में आपको इतिहास से सम्बंधित काफी कुछ देखने को मिल जायेगा। यहाँ पर्यटकों के लिए एक शानदार पुस्तकालय की भी व्यवस्था देखने को मिल जाती है। यहाँ आप अपना मन बहलाने के लिए कुछ पुस्तकों का भी अध्ययन कर सकते हैं। साथ ही यहाँ आपको काफी मूर्तियां, पेंटिग्स, हस्त शिल्प एवं सिक्कों के संग्रह भी देखने को मिलते हैं। जिसके मदद से आप यहाँ के इतिहास के बारे में जान सकते हैं।

शिमला राज्य संग्रहालय
शिमला राज्य संग्रहालय

इस संग्राहलय को बनाने का मुख्य उद्देश्य यहाँ के संस्कृति धरोहर एवं अतीत की यादों को संजोये रखना होता है।

मनाली

शिमला में स्थित मनाली में काफी सूंदर एवं बेहतरीन हिल स्टेशन है। मनाली व्यास नदी के किनारे स्थित है।

हिन्दू के धार्मिक ग्रंथों के अनुसार इस हिल स्टेशन मनाली का नाम यहाँ के कुल देवता मनु के नाम पर ही इस हिल स्टेशन का नाम मनाली रखा गया है। यह भारत के प्रमुख हिल स्टेटिनों में से शुमार है। पुराने समय में यह चरवाहों का काफी पसंदीदा स्थान हुआ करता था।

मनाली
मनाली

यहाँ आपको तीन पहाड़ियों का श्रृंखला भी देखने को मिलता है। जिसमे आपको एक से एक खूबसूरत मंदिर देखने को मिलता है। यहाँ आप मनु मंदिर , हिडिम्बा मंदिर एवं वशिष्ठ मंदिर को भी देख सकते हैं। यहाँ आप देखेंगे की हिडिम्बा मंदिर को काफी खूबसूरत लकड़ियों से सजाया गया है। जो की देखने में काफी सूंदर विशाल एवं भव्य दिखता है।

मनाली में घूमने फिरने के अतिरिक्त आप अनेकों तरह के रोमांचक गतिविधियों का भी जी भर के लाभ उठा सकते हैं। यहाँ आपके मनोरंजन के लिए तरह तरह की रोमांचक गतिविधियों की व्यवस्था है उनके नाम इस प्रकार से हैं – पर्वतारोहण , ट्रैकिंग एवं स्काइंग। साथ ही यहाँ खाने पीने की भी आपको काफी अच्छी व्यवस्था मिल जाएगी।

क्राइस्ट चर्च शिमला

शिमला में यह चर्च आपको द रिज में देखने को मिलेगा जो की भारत में सबसे पुराने चर्च के रूप प्रशिद्ध यह चर्च दूसरे नंबर पर आता है। इसे ब्रिटिश के अधिकारीयों के द्वारा बनवाया गया था।

यह चर्च पूरी तरह से 13 साल में बनाकर तैयार हुआ था। इस चर्च का डिजाइन कर्नल जेटी बॉयलियो द्वारा दिया गया था। इस चर्च को बनवाने की शुरुवात 1844 में की गयी थी और यह चर्च पूरी तरह से 1857 में बनकर तैयार हुई थी।

क्राइस्ट चर्च शिमला
क्राइस्ट चर्च शिमला

शिमला की शान के रूप में खड़ा इस चर्च में आज भी आप पांच कांच की कीमती खिड़कियों को देख सकते हैं। जो की ईसाई धर्म के अच्छी आदतों को दर्शाते हैं जो की कुछ इस प्रकार से हैं – विश्वास , विनम्रता , धैर्य उम्मीद , एवं विनम्रता आदि को दर्शाते हैं।

इस चर्च की सबसे बड़ी खासियत है की इस चर्च को आप कई किलोमीटर की दुरी से ही देख सकते हैं यह आपको देखने में बिलकुल ही ताज के सामान ही दिखता है।

शिमला आने वाले पर्यटकों के द्वारा इसे काफी ज्यादा पसंद किया जाता है। अगर आप यहाँ घूमने के लिए आ रहे हैं तो इसे हमेशा रविवार के दिन ही टूर का प्लान बनाये।

कुफरी शिमला

अगर आप शिमला में घूमते वक्त किसी ऐसे जगह की तलाश में हैं जहाँ आप कुछ देर शांति एवं शकुन के कुछ पल बिताना चाहते हैं तो फिर आपके लिए शिमला में घूमने वाले स्थानों में कुफरी काफी शानदार जगह है।

कुफरी शिमला
कुफरी शिमला

यह जगह खास कर के प्रकृति प्रेमी एवं एडवेंचर के शौक रखने वालों के लिए काफी सही जगह है। यह आपको शिमला हिल स्टेशन से 17 किलोमीटर की दुरी में देखने को मिलती है। कुफरी हिल स्टेशन 2510 किलोमीटर की दुरी में देखने को मिलती है।

यह काफी खूबसूरत हिल स्टेशन है जहाँ आप एक से बढ़कर एक खूबसूरत दृश्यों को देख सकते हैं। इसलिए अपने साथ कैमरा या वीडियो कैमरा लाना कभी भी न भूलें।

माल रोड शिमला

माल रोड शिमला में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में यह माल रोड यहाँ के सबसे ज्यादा सुप्रशिद्ध बाजारों में से एक है। यहाँ आप अपने मन मर्जी से जो चाहे शॉपिंग कर सकते हैं। शॉपिंग के लिए आपको यहाँ काफी अच्छी अच्छी दुकाने मिल जाती है। यहाँ आपको एक से एक खूबसूरत दुकानें, रेस्तरां , कैफे , पुस्तक की दुकानें और भी काफी सारी चीजों की दुकानें देखने को मिल जाती है। यहाँ आपको मनोरंजन के लिए भी काफी अच्छे अच्छे साधन मिल जायेंगे।

माल रोड शिमला
माल रोड शिमला

शिमला में स्थित यह काफी खूबसूरत बाजार है एवं यहाँ आने वाले पर्यटकों के बीच काफी ज्यादा चर्चित एवं प्रशिद्ध है।

जाखू हिल शिमला

शहर से मात्र 2 किलोमीटर की दुरी में स्थित यह शहर काफी आबादी वाला शहर है। जो की 8000 फ़ीट की ऊंचाई में स्थित है एवं शिमल की सबसे बड़ी हिल स्टेशन के रूप में प्रशिद्ध है।

जाखू हिल शिमला
जाखू हिल शिमला

अगर आप स्नो व्यू को देखने के शौकीन हैं तो आपको शिमला में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में यह जाखू हिल स्टेशन काफी ज्यादा पसंद आने वाला है। यहाँ आपको एक से बढ़कर एक बर्फीली वादियां देखने को मिलती है। साथ ही यहाँ आपको एक काफी खूबसूरत सा हनुमान मंदिर देखने को मिलता है। अगर आप हनुमान जी के सच्चे भक्त हैं तो आपके लिए यह तो और भी ज्यादा ख़ुशी की बात है।

इसी मंदिर को जाखू मंदिर कहा जाता है। इसी मंदिर के कारण इस हिल स्टेशन को भी जाखू हिल स्टेशन के नाम से जाना है। यहाँ की अध्भुत खूबसूरती के कारण यहाँ आने वाले पर्यटकों के लिए इस जाखू हिल स्टेशन में भर्मण किये बिना नहीं रह पाते हैं।

कालका शिमला

अगर आप शिमला घूमने के लिए जा रहे हैं और कालका न घूमें तो समझ लीजिये शिमला में आना आपके लिए बिलकुल ही फिजूल है। कालका शिमला से मात्र 60 किलोमीटर की दुरी में स्थित है। जहाँ पर आप एक से शानदार बर्फीले वादियों की मजा ले सकते हैं। यहाँ आप बर्फ से ढकी हुई मैदानों एवं चट्टानों का भी शानदर व्यू देखने को मिलेगा।

कालका शिमला
कालका शिमला

और इसके अलावा आप यहाँ काफी सारे रोमांचक गतिविधियों का भी जी भर के माजा ले सकते हैं। यहाँ आप केम्पिंग जैसे रोमाँचक गतिविधियों को भी अपनी यात्रा में शामिल कर सकते हैं। साथ ही यात्रा के दौरान टॉय ट्रैन का भी आनंद लेने का मौका कभी भी न छोड़े।

इस टॉय ट्रैन में सवारी करने पर आपको शिमला की ट्रिप आपके लिए सचमुच यादगार हो जाती है। इस ट्रेन में सवारी के दौरान आपकी गाड़ी काफी अच्छे अच्छे स्टेशनों से होकर गुजरती है। जहाँ आप अपने इस शिमला की यात्रा का भरपूर आनंद ले सकते हैं। शिमला यात्रा के दौरान यह टॉय ट्रैन आपको और भी अलग अलग स्थानों में लेकर जाता है। इस ट्रैन के माध्यम आप अलग अगल सुरंगों एवं पुलों का भी भर्मण कर सकते हैं। जो की आपके ट्रिप को सचमुच काफी ज्यादा रोमांचक बना देता है।

कालका शिमला रेलवे स्टेशन को विश्व धरोहर स्थल में भी शामिल किया गया है। एवं इसकी स्थापना ब्रिटिश काल में 1898 में बनवाया गया था।

सोलन शिमला

शिमला में घूमने की जगहों में यह सोलन शिमला भी काफी ज्यादा प्रशिद्ध है। यह शहर मशरूम शहर एवं लाल सोने के नाम से भी प्रशिद्ध है। इस शहर का ऐसा नाम इसकी कुछ खास विषेशताओं के कारन पड़ा है। इस शहर में आप देखेंगे की यहाँ पर मशरूम एवं टमाटर की खेती काफी बड़ी मात्रा में किया जाता है।

सोलन शिमला
सोलन शिमला

वैसे अगर इस शहर के विकाश की बात की जाय तो इसके विकाश का क्रेडिट ब्रिटिश सरकार को जाता है। क्योंकि इस शहर की शुरूआती दिनों में यहाँ ब्रिटिश सरकार ने ही इसे आर्थिक रूप में काफी ज्यादा मजबूत बना दिया था।

यहाँ आपको सालों भर पर्यटकों का भीड़ देखने को मिल जायेगा। क्योंकि 12 महीनों यहाँ का मौसम काफी शानदार एवं खूबसूरत होता है।

द रिज शिमला (बर्फ वाली जगह)

शिमला में बर्फ की जगह के नाम से प्रशिद्ध द रिज शिमला यहाँ आने वाले पर्यटकों को खूब भाता है। शिमला में घूमने लायक स्थानों में यह रिज शिमला आपको माल रोड के किनारे देखने को मिल जायेगा। ब्रिटिश अधिकारी यहाँ रुकने के लिए गर्मियों के समय में इसका इस्तेमाल किया करते थे।

द रिज शिमला
द रिज शिमला

अगर आप इसकी वास्तविक खूबसूरती को अपनी खुली आँखों से देखना पसंद करते हैं तो इसके लिए आपको शाम के वक्त आने की जरूरत है। यहाँ आप शाम के समय में पर्यटकों एवं स्थानीय लोंगो की काफी ज्यादा भीड़ को देख सकते हैं। शाम के वक्त यहाँ आप देखेंगे की बर्फ से ढके चादर के घरों में जब लाइट एवं रौशनी जलती है तो यहाँ का अध्भुत दृश्य सचमुच देखे लायक ही होता है।

यहाँ सड़क किनारे आपको एक से एक खूबसूरत दुकानें देखने को मिल जायेगा जहाँ से आप विशेष तरह की कलाकृतियों को खरीद सकते हैं। यहाँ आपको अन्य तरह की दुकानें जैसे की कैफे बार बुटीक एवं रेस्त्रां भी देख सकते हैं।

अगर यहाँ आप घूमने के लिए आते हैं तो यहाँ से कुछ जरुरी चीजों को अवश्य खरीद कर ले जाएँ जो की इस यात्रा के तौर पर आपके साथ यादगार बनकर रहेगा। अगर एक बार आप यहाँ घूमने के लिए आते हैं तो यहाँ आपको बार बार आने का मन करेगा।

समर हिल

समर हिल को आप शिमला से कुछ दुरी में देख सकते हैं यह एक उपनगर है जो की काफी खूबसूरत है। इसके चारों तरफ आप काफी खूबसूरत हरे भरे पेड़ देखने को मिलते हैं। समर हिल एक उपनगर होने के साथ साथ यह काफी खूबसूरत घाटी भी है।

समर हिल
समर हिल

यहाँ आप काफी खूबसूरत चीड़ एवं देवदार के पेड़ भी आपको देखने को मिल जायेंगे। यह जगह पॉटर हिल के नाम से भी प्रशिद्ध है। क्योंकि प्राचीन समय में यह कुम्हारों का गढ़ हुआ करता था। यहाँ पर कुम्हार लोग मिट्टी के बर्तन बनाकर के बाजार में बेचा करते थे।

यह आपको रिज से पांच किलोमीटर की दुरी में देखने को मिलता है। यहाँ की सड़को पर आप हिमाचल प्रदेश की विश्व विद्यालय को भी देख सकते हैं।

साथ ही यहाँ आपको कई सारे आवासीय विद्यालय को भी देखने जायेंगे। इनमें से सुप्रशिद्ध समर गिल हाउस भी है। यहाँ आने वाले सैलानी इस सुप्रशिद्ध समरगिल आवास में आना कभी भी नहीं भूलते हैं।

चैल हिल स्टेशन शिमला

अगर आप स्पोर्ट्स पर्सन हैं एवं आपको खेल कूद में काफी ज्यादा इंटरेस्ट है तो शिमला में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में यह शिमला आपको काफी ज्यादा पसदं आने वाली है। चैल हिल स्टेशन की दुरी शिमला से 44 किलोमीटर एवं सोलन से 45 किलोमीटर कि दुरी पर है। यहाँ आपको प्रकृति का अध्भुत सौन्दर्य भी देखने को मिलता है।

चैल हिल स्टेशन शिमला
चैल हिल स्टेशन शिमला

जब आप इस चैल पैलेस में घूमने के लिए आ रहे हैं तो आप यहाँ अध्भुत वास्तुकला के दीवाने हो जाते हैं।यहाँ आपको दुनियाँ का सबसे ऊँचा क्रिकेट का मैदान देखने को मिल जाता है। जो की समुद्र तल से 2444 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। साथ ही यहाँ आपको एक पोलो का भी मैदान देखने को मिल जाता है।

दारा घाटी अभयारण्य शिमला

शिमला में भर्मण करते समय आपने हर तरह के पर्यटन स्थलों का भर्मण कर लिया है। अब बात करते हैं। यहाँ के वन्यजीव उद्यान व अभ्यारण के बारे में। अगर आप पशु पक्षियों के प्रेमी हैं एवं वन्य जीवों से आपको प्रेम है तो फिर आपको शिमला में घूमने वाले जगहों में यहाँ के दारा घाटी अभयारण में एक बार जरूर आना चाहिए।

यह अभ्यारण आपको शिमला से 150 किलोमीटर की दुरी में देखने को मिल जाएगी। एवं इस अभ्यारण का क्षेत्रफ़ल 167 किलोमीटर है।

यहाँ आप तरह तरह के जंगली जानवर एवं पक्षियों को देख सकते हैं। यहाँ आप घूमने के दौरान कुछ खास किस्म के तीतर को देखेंगे जिसके नाम कुछ इस प्रकार से हैं – ट्रागोपण , कालिज, कोकलास एवं मोनाल। यहाँ के कुछ प्रमुख जानवर के नाम भी इस प्रकार से हैं गोराल , थार एवं कस्तूरी मृग।

शिमला में लोकप्रिय स्थानीय भोजन

शिमला में घूमने वाले पर्यटन स्थलों में यहाँ के दर्शनीय स्थलों काफी ज्यादा प्रशिद्ध है। एवं यहाँ आपको एक से एक स्वादिस्ट व्यंजन भी देखने को मिलते हैं। यहाँ आपको हर तरह के स्वादिस्ट व्यंजन का भी स्वाद लेने का मौका मिल जाता है। चूँकि शिमला की प्रशिद्धि सिर्फ भारत में बल्कि यह विदेशों में भी काफी ज्यादा प्रशिद्ध है। इसलिए यहाँ आपको भारत के हर राज्यों के भोजन का स्वाद लेने का मौका मिलता है। यहाँ आप सिर्फ भारतीय ही नहीं आप कांटिनेंटल फ़ूड के भी आनंद ले सकते हैं।

शिमला में घूमते घूमते यदि आप मॉल रोड के निचले बाजार तक पहुँच जाते हैं तो यहाँ आपको काफी सारे रेस्टोरेंट देखने को मिल जायेंगे। यहाँ आपको कुछ खास होटल जैसे की पंजाबी ढाबा एवं वैष्णो ढाबा जैसे शानदार होटल देखने को मिल जाते हैं एवं यहाँ आपको एक से बढ़कर एक वैराइटीदार भोजन मिल जायेंगे।

अगर आप स्ट्रीट फ़ूड के शौकीन हैं तो यहाँ पर आप स्ट्रीट फ़ूड के रूप में सिडु, बबरुखट्टा , छा गोश्त , भेय सिद्धू , माद्रा , तुड़किया भात एवं धाम इन स्वादिस्ट भोजन के आनंद ले सकते हैं।

इन सब के आलावा यदि आप तिब्बती संस्कृति के भोजन के शौकीन हैं तो यहाँ आपको इनकी भी काफी अच्छी व्यवस्था देखने को मिल जाएगी। तिब्बती खाने के रूप में यहाँ आपको थूकपा , थेंटुक, लुचियोपोटी ,तिंगमो मोमोज जैसे ही कुछ प्रशिद्ध भोजन मिल जायेंगे।

शिमला कैसे पहुंचे?

अपने शहर से आप शिमला तीन मार्गों से पहुँच सकते हैं सड़क मार्ग , ट्रेन मार्ग द्वारा एवं हवाई मार्ग द्वारा। आप अपने बजट के हिसाब से देख लें की कौन सा यातायात आपके लिए सबसे अच्छा होगा।

रेल मार्ग से शिमला कैसे पहुंचे?

यदि आप रेलव मार्ग से जाना चाहते हैं। तो आपकी जानकारी के लिए बता दें की शिमला का रेलवे स्टेशन देश के सभी रेलवे स्टेशनों से बहुत ही अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

शिमला में सबसे ज्यादा प्रशिद्ध एवं चर्चित रेलवे स्टेशन कालका रेलवे स्टेशन है और यह यहाँ का सबसे पावरफुल रेलवे स्टेशन भी है। जो की कालका से 92 किलोमीटर की दुरी में स्थित है। देश के कई बड़े शहरों दिल्ली मुंबई कोलकाता चेन्नई से आपको कालका के लिए ट्रेन मिल जाती है।

कालका पहुँचते ही आपको आगे की यात्रा कैब एवं टैक्सी से करनी होती है।साथ ही आप चाहे यहाँ चलने वाली टॉय ट्रेन से भी आगे का सफर कर सकते हैं। इस ट्रेन की सवारी करते हुए अगर आप शिमला तक जाना चाहते हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दें की यह आपको शिमला काफी देरी से पहुंचता है। इस दौरान आप यहाँ के शिमला में अध्भुत नज़ारे का भी मजा लेते हुए कालका में पहुँच तक जा सकते हैं।

हवाई मार्ग से शिमला कैसे जाएं?

अगर आप हवाई यात्रा के शौकीन हैं तो आपकी जानकरी के लिए बता दें की शिमला में किसी भी अन्य राज्य से आप डायरेक्ट उड़ान कभी भी नहीं भर सकते हैं।

यहाँ आपको हवाई अड्डा तो देखने को मिल ही जाती है लेकिन आप यहाँ पर आपको घरेलु उड़ान की सुविधा बिलकुल भी देखने को नहीं मिलेगी। यहाँ का नजदीकी हवाई अड्डा जुब्बरभट्टी हवाई अड्डा है जो की शिमला से मात्र 20 किलोमीटर स्थित है।

इसलिए आपको शिमला आने के चंडीगढ़ या दिल्ली के हवाई अड्डा के लिए टिकट बुक करना होता है। इन हवाई अड्डों के लिए आपको अपने शहर से ही फ्लाइट मिल जाती है।

अगर आपका बजट अच्छा खासा है तो आप चंडीगढ़ से शिमला आप डायरेक्ट हेलीकाप्टर से भी पहुँच सकते हैं। जो की आपको शिमला मात्र 25 मिनिट में ही पहुंचा देता है।

सड़क मार्ग से शिमला कैसे पहुंचे?

अगर आप सड़क मार्ग से शिमला की यात्रा करना चाहते हैं तो आपको आप दिल्ली, चंडीगढ़ , अम्बाला कालका एवं कुल्लू जैसी जगहों से आप सीधे बस पकड़ सकते हैं।

अगर आप किसी छोटे मोठे शहरों से शिमला की यात्रा करना चाहते हैं तो आपको बता दें दिल्ली तक आना होता है। एवं उसके बाद यहाँ से शिमला तक की यात्रा सड़क मार्ग से बड़ी ही आसानी से पूरा कर सकते हैं। दिल्ली से शिमला तक की दुरी मात्र 370 किलोमीटर है।

आगे की यात्रा आप साधारण बस एवं वॉल्वो बस किसी के भी द्वारा कर सकते हैं। यह आपके बजट पर जाता है।

शिमला घूमने का सही समय (Best Time to Visit Shimla)

वैसे तो शिमला में आपको सालों भर पर्यटकों का भीड़ देखने को मिलता है। लेकिन गर्मियों के समय में यहाँ आपको सबसे ज्यादा भीड़ देखने को मिलता है।

गर्मियों के समय में अन्य शहरों के काफी ज्यादा गर्मी रहती है जबकि यहाँ इस समय आपको काफी अच्छा मौसम मिलेगा। इस समय यहाँ का मौसम काफी सुहावना एवं ठंडा रहता है। गर्मियों के समय में तपती गर्मी से निजात पाने के लिए देश विदेश से यहाँ पर पर्यटकों का भीड़ लगा रहता है।

यदि आप शिमला में घूमने के लिए आ रहे हैं एवं यहाँ के बर्फ़बारी देखने के शौकीन हैं तो आपको सर्दियों के मौसम में जाना चाहिए। जो की नवंबर से फरवरी के महीने में पड़ता है। इन महीनों में यहाँ काफी ज्यादा सर्दी होती है। इसलिए जब कभी भी आप यहाँ पर घूमने के लिए आते हैं तो आपको अपने साथ ठंडी के मौसम में इस्तेमाल किया जाने वाले कपड़ों को जरूर लेकर आना चाहिए।

शिमला यात्रा के लिए कितने दिन की योजना बनानी चाहिए?

वैसे शिमला में घूमने के लिए ज्यादा कुछ नहीं है। इसलिए आप पूरी शिमला को मात्र 2 दिनों में ही काफी अच्छी तरह से घूम सकते हैं। पहले दिन आप शिमला में घूमने वाले सारे पर्यटन स्थलों का भर्मण कर सकते हैं।

एवं दूसरे दिन यहाँ के बर्फीले पहाड़ी में आप बर्फ में किये जाने वाले अनेकों तरह के एडवेंचर स्पोर्ट्स में भी हर सम्भव मजा कर सकते हैं।

शिमला में कहाँ रुके?

किसी भी जगह में घूमने के लिए आपको पहले वहाँ 1 या 2 दिनों के लिए रुकना होता है। ऐसे में अगर बात करें शिमला में रुकने के बारे में तो आपको यहाँ मॉल रोड एवं बस स्टैंड से कुछ दुरी पर काफी सारे होटल देखने को मिल जाते हैं।

अगर आप बजट ट्रेवलर हैं तो आपको यहाँ आप 800 से 1500 के बीच में होटल को बुक कर सकते हैं। वहीँ अगर आपका बजट अच्छा खासा है तो आप 10000 तक के होटल को भी बुक कर सकते हैं।

अगर आपका बजट और भी कम है एवं आप काफी कम खर्चों में शिमला में रहना चाहते हैं तो आप शिमला के धर्मशाला में रहने का जुगाड़ कर सकते हैं। यहाँ आप 400 से 500 में रहने खाने की सारी सुविधाएँ मिल जाती है।

शिमला में बेस्ट होटल

अगर आप शिमला में घूमने के लिए आ रहे हैं तो आपको यहाँ के कुछ खास होटल के बारे पहले से ही जान लेना चाहिए –

  • होटल मार्क
  • बेल्ली हेड कॉटेज शिमला
  • शिमला फेसिंग रोड नियर माल रोड
  • शिमला नेचुरल वेली
  • द झको रेस्ट
  • रैडिसन झास शिमला
  • द ओबेराय वीडियो शिमला
  • स्नो वैल्ली
  • होटल वूडविले प्लेस शिमला
  • होटल डिवाइन हिल्स शिमला
  • नाइस व्यू बी एंड बी
  • सोलो होम शिमला

शिमला कैसे घूमे?

यह आप पर जाता है की आप शिमला में घूमने लायक सारे पर्यटन स्थलों को किस प्रकार से घूमना चाहते हैं। आप यहाँ हर तरह से यहाँ के पर्यटन स्थलों को घूमने की वयवस्था मिल जाएगी।

अगर आपको फॉर व्हीलर में घूमना चाहते हैं तो आपको यहाँ आप रोजाना 1500 रूपये के हिसाब से आपको चार पहिये वाहन किराये में मिल जाते हैं।

अगर आपको दो पहिये वाहन में घूमना अच्छा लगता है तो आप इसे 500 रूपये किराये पर ले सकते हैं।

यहाँ आप कम चार्ज में स्कूटी एवं बाइक को किराये में ले सकते हैं। यहाँ आप जैसा भी बाइक किराये पर लेते हैं उसका चार्ज आपको वैसा ही देना होता है।

इस बात का ख्याल हमेशा अपने दिमाग में रखें यहाँ आपको बाइक किराये में लेने से पहले अपने सारे डॉक्यूमेंट जमा करना होता है एवं बाइक जमा देने के बाद आपको सारा डॉक्यूमेंट दे दिया जायेगा।

इतना सस्ता किराया होने के बाद भी अगर आप इससे भी कम किराये पर जाना चाहते हैं तो आपको लिए यहाँ पर टूरिस्ट बस एवं शेयरिंग टैक्सी दोनों का विकल्प मिल जाते हैं।

शिमला घूमने का खर्चा (Shimla Ghumne ka Kharcha)

पुरे शिमला को आप मात्र 5000 से 6000 रुपयों के बीच आसानी से पूरी ट्रिप का मजा ले सकते हैं। जैसा की आप पहले ही पढ़ चूके हैं। यहाँ घूमने के लिए ज्यादा कुछ नहीं है इसलिए शिमला की इस ट्रिप को आप मात्र दो दिन में ही समाप्त कर सकते हैं।

अगर होटल की बात करें तो आपको इसके लिए आपको रोजाना 800 से 1500 तक खर्च करना होता है। अगर आप दो दिन के लिए रुकते हैं तो इसके लिए आपको 3000 खर्च करना पड़ेगा।

2 दिन के लिए भोजन 1000 से 1500 के बीच खर्च करना पड़ता है। अब बारी आती है यहाँ के यातायात की तो उसे भी यहाँ पर मात्र 1000 से 2000 के बीच में बुक कर सकते हैं। यह आप पर जाता है की यहाँ घूमने के लिए आप किस तरह के वाहनों का इस्तेमाल करते हैं।

शिमला में सबसे फेमस क्या है?

  • रिज आफ शिमला
  • टॉय ट्रेन
  • तत्तापानी
  • जाखू मंदिर
  • शिमला माल रोड
  • कुफरी
  • क्राइस्ट चर्च
  • रिज आफ शिमला

शिमला के बेस्ट शॉपिंग प्लेस

शिमला में घूमने के दौरान शॉपिंग न करें ऐसा हो ही नहीं सकता है। मेरे तरफ से भी यही राय है की आप जब कभी भी शिमला घूमने के लिए आ रहे हैं तो यहाँ शॉपिंग करना बिलकुल भी न भूलें। यहाँ के कुछ शॉपिंग मार्किट यहाँ काफी प्रशिद्ध है –

तिब्बत मार्किट , हिमाचल एम्पोरियम , द मॉल , लोअर बाजार , लक्कर बाजार , शिमला लोकल मार्किट मार्केट। यहाँ आप खरीदारी में तरह तरह के शॉल स्वेटर एवं जैकेट , बूट्स को खरीदकर ले जा सकते हैं।

शिमला घूमने जाने पर पैकिंग में क्या वस्त्र लेकर जाए?

शिमला में घूमने जा रहे है तो आपको कुछ खास किस्म के कपड़ों को अपने साथ रखने की जरूरत होती है। अगर आप सर्दी के मौसम में घूमने के लिए जा रहे हैं तो आपको अपने साथ कुछ खास किस्म के ऊनी कपड़ो को साथ रखना होता है –

  • शूज एवं लॉन्ग बूट
  • कान को कवर करने के लिए मफलर
  • ग्लब्स
  • वार्म बॉडी
  • जुराबे
  • स्वेटर
  • लेदर जैकेट

गर्मियों के मौसम में आ रहे हैं तो आपको यहाँ गर्मियों के मौसम में इस्तेमाल किया जाने वाले कपडे को साथ में रखना होता है जैसे की

  • सनग्लास
  • अब्रेला
  • सनस्क्रीन स्किन केयर प्रोडक्ट
  • फर्स्ट एंड किट

इसके अलावा आपको अपने साथ में आधार कार्ड , ड्राइविंग लाइसेंस एवं गाड़ी के अन्य जरुरी कागज को साथ में रखना होता है।

FAQ

शिमला में सबसे ज्यादा प्रशिद्ध क्या है ?

शिमला में सबसे ज्यादा प्रशिद्ध यहाँ का जाखू टेम्पल है। जो की हनुमान जी का मंदिर है।

शिमला घूमने का सही समय क्या होता है ?

शिमला घूमने का सबसे अच्छा समय गर्मियों का समय होता है जो की मार्च से जून के बीच होता है।

शिमला में बर्फ़बारी कब होती है ?

शिमला में बर्फबारी सर्दियों के मौसम में होता है। जो की दिसम्बर से फरवरी के बीच होता है।

शिमला में इतनी ठण्ड क्यों होती है ?

हिमालय की बर्फ़ीली हवाओं के कारण शिमला में इतनी ठण्ड पड़ती है।

निष्कर्ष

इस लेख में आपको शिमला में घूमने वाली सारी जगहों की जानकारी काफी आसान शब्दों में मिलने वाली है।

आशा करते हैं मेरा यह लेख आपके लिए काफी सहयोगी रहा होगा , अतः इसे आप सॉइल मीडिया के हैंडल में शेयर करने का मौका कभी भी न छोड़े।

साथ ही शिमला में घूमने से संबंधिति किसी भी प्रकार का सवाल एवं जवाब आपके दिमाग में है तो आपको इसे कमेंट सेक्शन में पूछना कभी भी न भूलें।

Leave a comment